मोहाली

  • Hindi News
  • Chandigarh Zilla
  • Mohali
  • गणतंत्र दिवस पर युवा शक्ति ने राजपथ पर दिखाई आकर्षक परेड व कल्चरल प्रोग्राम
--Advertisement--

गणतंत्र दिवस पर युवा शक्ति ने राजपथ पर दिखाई आकर्षक परेड व कल्चरल प्रोग्राम

दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होकर आए नॉर्थ जोन के एनएसएस वालंटियर्स । इसमें मोहाली के मनिंदरपाल सिंह...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:10 AM IST
दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होकर आए नॉर्थ जोन के एनएसएस वालंटियर्स । इसमें मोहाली के मनिंदरपाल सिंह अफसर बनकर पहुंचे थे।

लखवंत सिंह | मोहाली

देश की युवा शक्ति को देश के विकास के लिए सही दिशा देना और विभिन्न प्रांतों की भाषाओं और सांस्कृतिक गतिविधियों को जानने के लिए गणतंत्र दिवस की परेड खास होती है। दिल्ली में हाेने वाली रिपब्लिक-डे परेड में शामिल होने के लिए देश के युवा एक मंच पर जमा होकर आपसी विचार विमर्श किया।

26 जनवरी को दिल्ली के राजपथ पर हुई परेड में शामिल होने के लिए इस बार एनएसएस के 14 वॉलंटियर्स नाॅर्थ जोन से पहुंचे थे। इसका नेतृत्व मोहाली के 29 साल के मनिंदरपाल सिंह ने किया। राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री सहित देश के आला नेताओं से मिलकर और वहां कई तरह के कार्यक्रमों में हिस्सा लेकर एक महीने बाद लौटे नॉर्थ जोन के इन वॉलेंटियरों में नया जोश और चेहरे पर खुशी दिखती है। देश की एकता, राष्ट्रीय सदभावना और आपसी भाईचारे को बढ़ावा देने की सीख लेकर वापस लौटे एनएसएस वालंटियर्स देशभक्ति भावना से ओतप्रोत दिख रहे हैं। उन्होंने अपने अनुभव साझा किए।

36 लाख वॉलंटियर्स में से केवल 200 को मिलता है ऐसा मौका: मनिंदरपाल सिंह बताते हैं कि आरडी परेड में हिस्सा लेने के लिए वॉलंटियर्स को कड़ी मेहनत करने के बाद ही मौका मिलता है। देश में 36 लाख के करीब एनएसएस के वॉलंटियर्स हैं और उनमें से मात्र 200 वॉलंटियर्स आरडी परेड के लिए सिलेक्ट होते हैं। इस बार नॉर्थ जोन से 14 वॉलंटियर्स में पंजाब से 4 लड़के-4 लड़कियां, हिमाचल प्रदेश से 2 लड़के-2 लड़कियां और चंडीगढ़ से 1 लड़का और 1 लड़की को ही मौका मिला।

वॉलंटियर्स ने लिया कार्यक्रमों में हिस्सा : मनिंदरपाल ने बताया कि एनएसएस के वॉलंटियर्स ने परेड, कल्चरल एक्टीविटी, सेलिब्रेशन, अवार्ड, विजीट और ईको सांग वंदेमातरम में हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न प्रांतों से पहुंचे युवाओं के साथ मिलकर उनके राज्य की संस्कृति और भाषाओं के बारे जानकारी मिली। देश की युवा शक्ति जब एक स्थान पर जमा हुए तो कई तरह की नई बातों का भी पता चला जिससे देश का विकास हो सकता है।

14 साल बाद पूरा हुआ सपना, सबसे कम उम्र के अफसर थे मनिंदरपाल... मनिंदरपाल सिंह बताते है कि आरडी परेड में आने वाले प्रोग्राम अफसरों में सबसे कम उम्र के वे ही प्रोग्राम अफसर थे । देश के अन्य स्थानों से एनएसएस वाॅलेंटियरों के ग्रूपों को लाने वाले प्रोग्राम अफसर काफी अनुभवी और उम्रदराज थे। मनिंदरपाल सिंह ने बताया कि उनका नॉर्थ जोन की ओर से प्रोग्राम अफसर बन कर जाने से जो सपना 14 साल पहले देखा था वह पूरा हो गया। फेज-3बी1 के सरकारी स्कूल से 12वीं करने के बाद सेक्टर-46 के कॉलेज से ग्रेजुएशन की। उसके बाद पैरागॉन सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर-71 में इकॉनॉमी के लेक्चरार है।

X
Click to listen..