Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali» खिजराबाद के 29 में से 10 क्रशर्स की सील खुलवाई डीसी सपरा ने

खिजराबाद के 29 में से 10 क्रशर्स की सील खुलवाई डीसी सपरा ने

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:15 AM IST

मनोज जोशी | मोहाली manoj.joshi@dbcorp.in सीएम के निर्देशों के बाद एक महीना पहले खिजराबाद एरिया के सभी 29 क्रशर्स को सील कर इस...
मनोज जोशी | मोहाली manoj.joshi@dbcorp.in

सीएम के निर्देशों के बाद एक महीना पहले खिजराबाद एरिया के सभी 29 क्रशर्स को सील कर इस एरिया को जीरो मूवमेंट जोन में तबदील कर दिया गया था। अब इनमें से 10 क्रशर्स डीसी के निर्देश पर दोबारा चालू कर दिए गए हैं। माइनिंग विभाग के अनुसार ये लीगल क्रशर्स हैं। इनके मालिकों से एफिडेविट लिया गया है कि वे अवैध माइनिंग नहीं करेंगे और न ही अवैध माइनिंग का माल अपने क्रशर्स पर लाएंगे। अगर उल्लंघन करते पाए गए तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इसी बीच जीएम माइनिंग की रिटायरमेंट के साथ ही इन क्रशर्स काे चालू करना अपने आप में कई सवाल खड़े कर रहा है। खिजराबाद एरिया में क्रशर्स की भरमार है। इसी कारण इस एरिया में अवैध माइनिंग धड़ल्ले से होती रही है। यहीं से ग्रेवर खोदकर यहीं खपाने में ये क्रशर्स अहम भूमिका निभाते रहे हैं। ऐसा इसलिए भी संभव है, क्यांेकि इस एरिया में सरकार ने कहीं भी माइनिंग के लिए नीलामी नहीं की है। इसके बावजूद क्रशर्स पर ग्रेवर के ढेर नजर आते हैं। विधायक कंवर संधू, डीसी गुरप्रीत कौर सपरा, एडीसी कम नोडल ऑफिसर माइनिंग चरणदेव सिंह मान और जीएम माइनिंग चमनलाल गर्ग के साथ डिस्ट्रिक्ट माइनिंग ऑफिसर सिमरप्रीत कौर ढिल्लों ने यहां अवैध माइनिंग रोकने के लिए अभियान चला रखा है।

जीएम पर जिम्मेदारी आई तो सील किए गए थे क्रशर

सीएम ने करीब एक महीना पहले अवैध माइनिंग के कारण हो रही सरकार की फजीहत के चलते ऐलान किया था कि जिस जिले में अवैध माइनिंग पाई जाएगी, वहां के जीएम माइनिंग के खिलाफ कार्रवाई होगी। जीएम ही पूरी तरह से अवैध माइनिंग रोकने के जिम्मेदार माने जाएंगे। सीएम के इन निर्देशों के दो दिन बाद 28 दिसंबर को माइनिंग विभाग की टीम ने खिजराबाद एरिया के 7 अवैध और 25 वैध क्रशर्स सील कर दिए थे। सभी क्रशर्स मालिकों को निर्देश दिए गए कि वह अपने क्रशर्स से संबंधित पूरे रिकाॅर्ड का आॅडिट करवाएं। क्रशर्स सील कर पूरे एरिया को जीरो मूवमेंट जोन में बदल दिया गया। दिन रात चेकिंग की जाती रही कि कोई क्रशर्स तो नहीं चल रहा। इसका पता लगाने के लिए पुलिस को भी निर्देश दिए गए थे।

जीएम की रिटायरमेंट के साथ ही शुरू हुए क्रशर्स...जीएम माइनिंग चमन लाल गर्ग 31 जनवरी को रिटायर हुए हैं। उनकी फेयरवेल पार्टी 30 जनवरी को रखी गई थी, क्योंकि 31 जनवरी को छुट्टी थी। यह संयोग है या फिर कुछ और कि 29 जनवरी को ही पांच क्रशर्स की सील खोली गई और 30 जनवरी को अन्य पांच की सील खोलकर उन्हें चला दिया गया। जब इस बारे में जीएम से पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया कि यह कार्रवाई भले ही उनकी रिटायरमेंट के साथ ही हुई है, लेकिन सील खोलने के निर्देश डिप्टी कमिश्नर की ओर से आए हैं। इनका रिटायरमेंट के साथ कोई ताल्लुक नहीं है। जब तक वह जीएम थे, उन्होंने पूरे एरिया को जीरो मूवमेंट जोन में तबदील किया हुआ था, जिसकी रिपोर्ट उनके पास है।

30 दिसंबर को छपी थी खबर।

अवैध माइनिंग का पता चला तो होगी कड़ी कार्रवाई: डीसी

डीसी गुरप्रीत कौर सपरा ने बताया कि जब सभी क्रशर्स सील किए गए थे तो उनमें 25 ऐसे क्रशर्स थे जो वैध थे। इन वैध क्रशर्स के मालिक बार-बार इस बात को लेकर निवेदन कर रहे थे कि उनका कसूर नहीं है। इसलिए उनके क्रशर्स को सील मुक्त किया जाए। डीसी ने बताया कि वैध क्रशर्स में से उन क्रशर्स की सील खोली गई है, जिनका रिकाॅर्ड अच्छा था और इन सब से एफिडेविट लिया गया है कि वे न तो अवैध माइिनंग करेंगे और न ही अवैध माइनिंग का माल अपने क्रशर्स पर इस्तेमाल करेंगे। साथ ही यह भी कहा गया है कि जो भी माल उनके पास होगा, उसके पूरे कागजात, बिल जीएसटी सहित रखे जाएंगे, जिनकी चेकिंग किसी भी समय टीमें आकर कर सकती हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: खिजराबाद के 29 में से 10 क्रशर्स की सील खुलवाई डीसी सपरा ने
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Mohali

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×