• Home
  • Chandigarh Zilla
  • Panchkula
  • Kalka
  • अपग्रेड होने वाले पीएचसी सेंटर्स की रिपोर्ट बननी शुरू, डीजी हेल्थ से अप्रूवल के बाद शुरू होगा काम
--Advertisement--

अपग्रेड होने वाले पीएचसी सेंटर्स की रिपोर्ट बननी शुरू, डीजी हेल्थ से अप्रूवल के बाद शुरू होगा काम

पंचकूला के जनरल अस्पताल में एमआरआई, डायलेसिस, कैथ लैब जैसी कई सुविधाएं देने के बाद अब स्वास्थ्य विभाग ने जिले के...

Danik Bhaskar | Feb 03, 2018, 02:00 AM IST
पंचकूला के जनरल अस्पताल में एमआरआई, डायलेसिस, कैथ लैब जैसी कई सुविधाएं देने के बाद अब स्वास्थ्य विभाग ने जिले के हेल्थ सेंटर्स को अपग्रेड करने के लिए तैयारी शुरू कर दी है। विभाग की ओर से एक रिपोर्ट तैयार की जा रही है, जिसमें पंचकूला के प्राइमरी हेल्थ सेंटर्स से लेकर सीएचसी को अपग्रेड करने के लिए पोपुलेशन के हिसाब से नॉर्म्स शामिल किए जा रहे है। रिपोर्ट तैयार होते ही पंचकूला स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस रिपोर्ट को डायरेक्टर जनरल हेल्थ, हरियाणा को भेजेगा। इसके बाद अप्रूवल मिलने के बाद पीएचसी से लेकर सीएचसी को अपग्रेड किया जाएगा। वहीं, पंचकूला में हेल्थ सेंटर्स को अपग्रेड करने के लिए स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के पास भी डिमांड जा चुकि है। जिसके बाद ही जिले में रिपोर्ट तैयार की जा रही है।

तीन हेल्थ सेंटर्स एनक्वास सर्टीफाइड, तीन ओर दौड में शामिल

पंचकूला के तीन ऐसे हेल्थ सेंटर है, जिन्हें एनक्वास द्वारा सर्टीफाइड किया जा चुका है। यह तीन हेल्थ सेंटर बरवाला पीएचसी, कोट पीएचसी और पिंजौर की पीएचसी है। इसके बाद अब विभाग की ओर से साल 2018-19 के लिए जिले के तीन ओर पीएचसी को एनक्वास की दौड में शामिल कर दिया है। विभाग की ओर से अब पीएचसी हंगोला, पीएचसी नानकपुर और मोरनी की पीएचसी को एनक्वास के लिए तैयार किया जा रहा है। जिनकी आने वाले दिनों में एनक्वास की टीम अपने नॉर्म्स के मुताबिक चेकिंग भी करेगी।

26 की पोली क्लीनिक और 16 की डिस्पेंसरी में एक्स-रे शुरू

विभाग की ओर से हाल ही में सेक्टर 26 के पोली क्लीनिक मेें भी एक्स-रे मशीन को इंस्टॉल किया है। जिसके बाद सेक्टर 16 की डिसपेंसरी में भी एक्स-रे टेक्नीशियन तैनात किया गया। अब इन दोनों हेल्थ सेंटर्स पर मरीजों के एक्स-रे का भी बंदोबस्त कर दिया गया है। इसके अलावा अब दूसरी सुविधाओं को भी अपग्रेड करने के लिए दोनों हेल्थ सेंटर्स के इंचार्ज से मीटिंग की जा चुकी है।

विभाग के अधिकारियों के मुताबिक आने वाले दिनों में यहां ओर भी सुविधाओं को अपग्रेड कियाय जाना है। स्वास्थ्य विभाग एक रिपोर्ट तैयार कर रहा है, जिसमें पिंजौर की पीएचसी को भी शामिल किया गया है। इस पीएचसी को सीएचसी में तबदील करने के लिए तैयारी की जा रही है, लेकिन पोपुलेशन के अकोर्डिंग इसे पोलीक्लीनिक भी बनाया जा सकता है। इसके अलावा कालका सीएचसी को भी 25 से बढाकार 50 बेडिड किया जाएगा। जिसके लिए अभी यहां साईट और इनफ्रास्ट्रक्चर से लेकर स्टाफ तक की रिपोर्ट तैयार की जा रही है जिसके बाद इस प्लानिंग को डायरेक्टर जनरल हेल्थ, हरियाणा के पास भी डिसकस किया जाएगा।

कालका सीएचसी काे 50 बेडेड करने की प्लानिंग

सीएमओ डॉॅ. अश्वनी आहुजा ने बताया कि पंचकूला मेें कई सीएचसी और पीएचसी को अपग्रेड किया जा रहा है। इसके अलावा जो पीएचसी पिंजौर में है उसकी रिपोर्ट तैयार की जा रही है और सीएचसी कालका को भी 50 बेडेड करने के लिए काम किया जा रहा है। डीजी हेल्थ से अप्रूवल मिलते ही काम शुरू कर दिया जाएगा।