--Advertisement--

अगर ऐसा ही रहा तो कैसे शहर बनेगा स्मार्ट सिटी

कॉलोनियों में अंदरूनी गलियों में सफाई व्यवस्था नहीं भास्कर न्यूज | कालका पंचकूला नगर निगम क्षेत्र को स्मार्ट...

Dainik Bhaskar

Feb 03, 2018, 02:00 AM IST
अगर ऐसा ही रहा तो कैसे शहर बनेगा स्मार्ट सिटी
कॉलोनियों में अंदरूनी गलियों में सफाई व्यवस्था नहीं

भास्कर न्यूज | कालका

पंचकूला नगर निगम क्षेत्र को स्मार्ट सिटी में शामिल कराने के लिए केंद्रीय सर्वेक्षण चल रहा है। इसीलिए नगर निगम प्रशासन भी पिंजौर कालका क्षेत्र में सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दे रहा है क्योंकि केंद्र से सर्वे टीम भी आई हुई है लेकिन नगर निगम वार्ड 1 कालका के खटीक मोहल्ला अप्पर मोहल्ला में लगे गंदगी के ढेरों पर निगम अधिकारियों की नजर नहीं पड़ी है।

यहां सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है। खटीक मोहल्ला निवासी जमुनादास, जसवंत कुमार, अशोक कुमार बबलू ने बताया कि मोहल्ले में विशेषकर सुखना नदी किनारे बने मकानों के आसपास नगर निगम के सफाई कर्मी सफाई करने के लिए नहीं आते। यहां पर गंदगी के बड़े-बड़े ढेर पड़े हुए हैं। यही नहीं, सुखना नदी में गंदे पानी की नालियां, बड़े नालों और सीवरेज के पाइप डाल रखे हैं जहां अक्सर सूअर या अन्य अावारा जानवर भी घूम कर गंदगी को फैला देते हैं, जिससे यहां भारी दुर्गंध के कारण लोगों का रहना कठिन हो चुका है। जमुनादास ने बताया कि नगर निगम ने गत 4 माह पूर्व अप्पर मोहल्ला, टिब्बी मोहल्ला, खेड़ा सीताराम, काली माता मंदिर के आसपास की कॉलोनियों का सारा गंदा पानी नाला बना कर नदी में खुले छोड़ दिया है।

इससे यहां स्थिति और भी खराब हो चुकी है। कई बार अधिकारियों को शिकायत की गई लेकिन कोई समाधान नहीं निकला। जमुनादास ने कहा कि निगम अधिकारी केंद्रीय सर्वे टीम को मेन सड़कों, गलियों में ही ले जा रहे हैं जबकि घनी आबादी वाले अंदरूनी गलियों में सफाई व्यवस्था की हालत दयनीय है।


अगर ऐसा ही रहा तो कैसे शहर बनेगा स्मार्ट सिटी

कालका वार्ड 1 में नहीं होती सफाई, खटीक मोहल्ला, अपर मोहल्ला में गंदगी

X
अगर ऐसा ही रहा तो कैसे शहर बनेगा स्मार्ट सिटी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..