• Hindi News
  • Chandigarh Zilla
  • Panchkula
  • Kalka
  • अब पंचकूला के उन एरिया में भी जाएगी मोबाइल हेल्थ वैन जहां पहंुचना मुश्किल
--Advertisement--

अब पंचकूला के उन एरिया में भी जाएगी मोबाइल हेल्थ वैन जहां पहंुचना मुश्किल

Kalka News - इस बारे में डॉ. अश्वनी आहूजा ने बताया कि इस वैन की डिमांड लंबे समय से महसूस की जा रही है। अब हेल्थ डिपार्टमेंट के पास...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:05 AM IST
अब पंचकूला के उन एरिया में भी जाएगी मोबाइल हेल्थ वैन जहां पहंुचना मुश्किल
इस बारे में डॉ. अश्वनी आहूजा ने बताया कि इस वैन की डिमांड लंबे समय से महसूस की जा रही है। अब हेल्थ डिपार्टमेंट के पास मोबाइल हेल्थ वैन आ गई है और हार्ड टू रीच एरिया में खास तौर पर इसकी सुविधा देने की प्लानिंग की गई है। इस वैन में मैटरनल हेल्थ, चाइल्ड हेल्थ, फैमिली प्लानिंग, मरीजों के रूटीन टेस्ट, शुगर टेस्ट सहित घायल मरीजों को अस्पताल जाने से पहले उनकी ड्रेसिंग करने की भी व्यवस्था है

वैन में मरीजों का शुगर, रूटीन टेस्ट के अलावा ईसीजी, सेल भी होंगे काउंट

मैटरनल हेल्थ, फैमिली प्लानिंग से लेकर चाइल्ड हेल्थ के लिए भी होंगे पुख्ता बंदोबस्त

सिटी रिपोर्टर|पंचकूला

पंचकूला में एक लाख से ज्यादा ऐसे लोग हैं, जिनके पास अब भी हेल्थ फैसिलिटीज बेहतर तरीके से नहीं पहुंच रही। स्वास्थ्य विभाग भी पिछले कई सालों से इन एरिया में लोगों को सुविधा देने के प्रयास कर रहा है। वहीं, अब विभाग की चार साल से पेंडिंग डिमांड पूरी हो गई है। पंचकूला के ऐसे एरिया में अब मरीजों को एक ही मोबाइल हेल्थ वैन में अलग-अलग तरह के टेस्ट और ट्रीटमेंट मिलेंगे जहां पर पहुंचना मुश्किल है। इसमें खास तौर पर मैटरनल हेल्थ का ध्यान रखा गया है। इसके अलावा चाइल्ड हेल्थ और फैमिली प्लानिंग के लिए भी इस वैन में सुविधा दी गई है। विभाग की ओर से 2012-13 में इस वैन के लिए डिमांड की गई थी। इसके बाद 2015-16 में प्रशासन और एमडी एनएचएम की ओर से इसे अप्रूव कर दिया गया था। वहीं, पंचकूला के सीएमओ रह चुके डॉ. अश्वनी आहूजा ने भी अपनी ज्वाॅइनिंग के बाद तीन बार अधिकारियों को इस वैन के लिए लेटर लिखा था। इसके बाद अब पंचकूला के एक लाख से ज्यादा हार्ड टू रीच एरिया में रहने वाले लोगों को इसी महीने से मोबाइल हेल्थ वैन की सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी।

शुगर मरीजों का भी होगा इलाज : इस वैन में शुगर के मरीजों का भी इलाज किया जाएगा। इसके लिए शुगर मरीजों के होने वाले ब्लड सैंपल का भी यहां टेस्ट किया जाएगा। इसके अलावा हार्ड टू रीच एरिया में होने वाले एक्सीडेंट में घायलों की भी ड्रेसिंग इसी वैन में की जाएगी। पंचकूला के पूर्व सीएमओ डॉ. अश्वनी आहूजा ने बताया कि इस वैन में खास तौर पर गर्भवती महिलाओं के लिए भी सुविधा होगी। आने वाले दिनों में इस वैन में ईसीजी मशीन, सैल काउंटर मशीन और ग्लूकोमीटर का भी बंदोबस्त किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग को डिस्ट्रिक्ट इनोवेशन फंड की ओर से इस मोबाइल हेल्थ वैन की सुविधा मिली है। साइंस एंड टेक्नोलॉजी विभाग की ओर से भी इस वैन को पंचकूला के लोगों तक पहुंचाने में योगदान रहा है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से अभी एरिया डिसाइड किया जाएगा जिसके बाद इस वैन के जरिए लोगों के टेस्ट किए जाएंगे

वैन की डिमांड लंबे समय से थी : डॉ. अश्वनी आहुजा

जिले के हाई रिस्क एरिया में भी वैन को भेजा जाएगा

सबसे ज्यादा बीमारियों से ग्रस्त लोग हाई रिस्क एरिया से विभाग के पास पहुंचते हैं। आने वाले डेंगू सीजन में भी खून में फैले इन्फेक्शन से लोगों के बीमार होने की संभावना विभाग को है। ऐसे में इस मोबाइल हेल्थ वैन को पंचकूला के हाई रिस्क एरिया में भी भेजा जाएगा। यहां पर हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम की ओर से सस्पेक्टेड केसों के सैंपल भी लिए जाएंगे। पंचकूला में सबसे ज्यादा हाई रिस्क एरिया में आने वाले ओल्ड पंचकूला में विभाग की ओर से इस वैन को भेजने की प्लानिंग की जा रही है। इसके बाद सूरजपुर, रिवर बेड एरिया तथा कालका और पिंजौर में भी इस वैन को भेजा जाएगा। वहीं, अब पंचकूला जिले के एक लाख से ज्यादा हार्ड टू रीच एरिया में रहने वाले लोगों को इसी महीने से मोबाइल हेल्थ वैन की सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी। इससे लोगों को काफी फायदा होगा।

X
अब पंचकूला के उन एरिया में भी जाएगी मोबाइल हेल्थ वैन जहां पहंुचना मुश्किल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..