Hindi News »Chandigarh Zilla »Panchkula »Pinjore» वाल्मीकि समाज की बैठक में एससी/एसटी एक्ट के बदलाव की निंदा

वाल्मीकि समाज की बैठक में एससी/एसटी एक्ट के बदलाव की निंदा

पिंजौर| शनिवार को वाल्मीकि सभा पिंजौर की एक आपात बैठक वाल्मीकि धर्मशाला पिंजौर में सभा के प्रधान एडवोकेट एवं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 02:10 AM IST

पिंजौर| शनिवार को वाल्मीकि सभा पिंजौर की एक आपात बैठक वाल्मीकि धर्मशाला पिंजौर में सभा के प्रधान एडवोकेट एवं पूर्व पार्षद संजीव कुमार की अध्यक्षता में हुई। इसमें सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए फैसले में एससी/एसटी एक्ट में किए गए बदलाव की कड़े शब्दों में निंदा की गई। बैठक में सर्वसम्मति से इस फैसले का शंातिपूर्वक विरोध करने का फैसला लिया गया। प्रधान ने बताया कि इस फैसले को लेकर समाज में गहरा रोष है। समाज के लोग 2 अप्रैल को भारत बंद में बढ़-चढ़कर सहयोग करेंगे व अन्य दलित संस्थाओं के साथ मिलकर इस बंद को सफल बनाएंगे। उन्होंने सफाई कर्मचारी यूनियनों द्वारा 2 अप्रैल को पूर्ण हड़ताल के फैसले का स्वागत योग्य बताया।

कई सड़कों पर कबाड़ियों ने किए कब्जे, शिकायत के बाद भी नहीं हटाए जा रहे

पंचकूला|सेक्टर-17 में चंडीगढ़-पंचकूला-जीरकपुर को जाने वाली मुख्य सड़क पर कबाड़ियों ने कब्जा कर रखा है। लोगों ने इसकी कई बार कम्पलेंट भी कि गई है पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं हुई है। कार्रवाई के नाम पर सिर्फ दो दिन के लिए कबाड़ी हटते हैं पर फिर से सड़क पर नाजायज कब्जा कर लेते हैं। यहां तक कि डीसी भी कार्रवाई के लिए बोल चुके हैं पर फिर से व्यवस्था वैसी ही हाे जाती है। इसके कारण आने जाने में दिक्कत होती है और जाम की समस्या बनी रहती है। इसके कारण मार्ग में किसी भी तरह का हादसे का कारण बन सकता है। लोगों ने इस समस्या के समाधान के लिए कई बार प्रशासन को शिकातय भी दी है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। लोगों का कहना है कि शिकयत क्या करें कार्रवाई तो होती नहीं।

पार्कों में लोग नशेड़ियों से परेशान, बोले-पुलिस को चेकिंग करनी चाहिए

पंचकूला | शहर के कई पार्क एेसे हैं, जिनमें शाम के समय प्रशासन द्वारा लोगों के लिए बनाए गए पार्क में असामाजिक तत्वों द्वारा अड्डा बना लिया गया है। शाम के समय वे जुआ सहित कई तरह के कामों को अंजाम देते हैं। यहां तक कि पार्कों में रोज शाम के वक्त कुछ नशेड़ी अपना अड्डा जमाकर बैठ जाते हैं। इस कारण यहां के कई पार्कों में लोग न तो सैर कर पाते हैं और न यहां बच्चे खेल पाते हैं। इसकी शिकायत नगर निगम से लेकर जिला प्रशासन के अधिकारियों तक को दिए जाने के बावजूद उनकी ओर से कार्रवाई नहीं की जा रही। पार्क मेनटेन करने को भी कई बार अधिकारियों को कहा, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही। लोगों की मांग है कि इन पार्कों में पुलिस को चेकिंग करनी चाहिए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pinjore

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×