अफगानिस्तान में ईरान से 1.5 लाख लोग पहुंचे, इनमें से 10% की ही स्क्रीनिगं हुई

Palamu News - ईरान में 157 और मौतें, मृतकों की कुल संख्या 2234 हुई, छठा सबसे प्रभावित देश अफगानिस्तान की ईरान से लगती सीमाओं को...

Mar 27, 2020, 07:35 AM IST

{ईरान में 157 और मौतें, मृतकों की कुल संख्या 2234 हुई, छठा सबसे प्रभावित देश

{अफगानिस्तान की ईरान से लगती सीमाओं को पूरी तरह सील करना नामुमकिन है

ईरान में कोरोनावायरस से 157 नई मौतें हुई हैं। यहां अब तक 2234 मौतें हो चुकी हैं। यह कोरोनावायरस से प्रभावित छठा सबसे बड़ा देश हैं। ऐसे में यहां रह रहे अफगानिस्तान के लोग अपने देश लौट रहे हैं। 8 मार्च से 21 मार्च तक ईरान से करीब 1.15 लाख लोग लौट चुके हैं। इनमें से सिर्फ 10 फीसदी लोगों की ही स्क्रीनिंग हुई है। ऐसे में देशभर में फैले इन लाखों लोगों को ‘कोरोना का सुपरस्प्रेडर’ कहा जा रहा है। ये लोग हेरात प्रांत के रास्ते प्रवेश कर रहे हैं। यहां अब तक 58 पॉजिटिव केस आए हैं। पूरे देश में 84 मामले आए हैं। इनमेंं 2 की मौत हो चुकी हैं।

स्वास्थ्य मंत्री फिरोजुद्दीन फिरोज के मुताबिक सरकार का अनुमान है कि ईरान से आए लोगों की वजह से देश में करीब 3.40 करोड़ लोगों पर कोराना का खतरा है। हालात काबू नहीं किए गए तो 1.10 लाख लोग मारे जाएंगे। उधर, राष्ट्रपति अशरफ गनी ने भीड़ न करने की अपील की है, लेकिन लोग नहीं मान रहे हैं।
उधर, जापान, रूस और सिंगापुर जैसे कम प्रभावित देशों में भी सख्ती शुरू हो गई है। मॉस्को में फूड और दवा की दुकानों को छोड़कर बाकी प्रतिष्ठानों को बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। अब तक दुनियाभथर में 21,152 लोगों की मौत हो चुकी है।

जर्मनी ने बनाई नई डिवाइस, ढाई घंटे में पता चल सकेगा

जर्मनी की दिग्गज कंपनी बॉश ने कोरोना वायरस टेस्ट करने की नई डिवाइस तैयार की है। इस तकनीक से सैंपल को कहीं दूर किसी लैब में भेजे बिना ढाई घंटे के अंदर टेस्ट किया जा सकेगा कि संबंधित व्यक्ति वायरस से संक्रमित है या नहीं। इसमें समय की बचत तो होगी ही। सैंपल को ट्रांसपोर्ट करने में होने वाला खर्च भी नहीं होगा। इस डिवाइस से किए गए विभिन्न टेस्ट के नतीजे 95% सटीक रहे हैं। इस मशीन से एक दिन में 10 टेस्ट किए जा सकेंगे। हालांकि कंपनी ने कीमत नहीं बताई है।

हेरात पहुंचने वाले ज्यादातर लोगों में फ्लू के लक्षण मिले

एजेंसी का कहना है कि अगर सीमा बंद भी कर दी जाए, तो भी अफगानी देश लौटने का कोई न कोई रास्ता खोज ही लेते हैं। ये लोग यात्रियों से खचाखच भरी टैक्सियों, बसों, वैनों से अफगानिस्तान लौट रहे हैं। ज्यादातर लोग हेरात शहर के तंग होटल और हॉस्टल में रुके हैं। हेरात प्रांत के गवर्नर अब्दुल कयूम रहीमी ने कहा कि यहां हेल्थ वर्कर, मास्क और थर्मोमीटर की कमी है। नाममात्र के लोगों की जांच की गई है। ज्यादातर में फ्लू जैसे लक्षण दिख रहे हैं।

अफगानिस्तान के स्वास्थ्य मंत्री बोले- यहां 1 लाख लोग मारे जाएंगे

रूसः 182 नए मामले मिले, मॉस्को में लॉकडाउन, रेस्त्रां व मेडिकल खुलेंगे

रूस में एक दिन में 182 नए मामले मिले हैं। इससे देश में कुल संक्रमित संख्या 840 पहुंच गई है। 3 लोगों की मौत हो चुकी हैं। इसके बाद मॉस्को में इमरजेंसी सेवाओं को छोड़ सभी प्रतिष्ठान बंद रखने का फैसला लिया।

ब्रिटेनः पूरे देश में नाकेबंदी, 15% लोग बेवजह घर से बाहर निकल रहे हैं

ब्रिटिश पुलिस ने पूरे देश में नाकेबंदी कर दी है। सिर्फ खाना, दवा के लिए घर छोड़ने वाले लोगों को ही रियायत दी जा रही है। एक सर्वे के मुताबिक 7% लोग दोस्तों से मिलने जा रहे हैं और 8% गैरजरूरी खरीदारी कर रहे हैं।

सिंगापुर: अब तक 631 मामले, इनमें से हर पांचवां शख्स ब्रिटेन से लौटा है

सिंगापुर के अधिकारियों के मुताबिक उनके यहां अब तक कोरोना के 631 मामले मिले हैं। इनमें से 121 लोग ब्रिटेन से लौटे हैं। यहां एक भी मौत नहीं हुई है। क्योंकि संक्रमण से निपटने में सिंगापुर सबसे बेहतरीन देशों में है।

इटलीः कोरोना पॉजिटिव के अंतिम संस्कार में भी भाग लेने पर रोक

इटली ने अंतिम संस्कार पर रोक लगा दी है। किसी को भी बॉडी के करीब नहीं जाने दिया जा रहा है। यहां तक कि मृतकों को उनके बेहतरीन और पसंदीदा कपड़ों में नहीं दफनाया जा रहा है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना