--Advertisement--

घर, ऑफिस, फैक्ट्री हो या दुकान, लॉन या पार्किंग उत्तर में, मेन गेट पूर्व में हो, 5 वास्तु टिप्स ध्यान रखने से हमेशा होता है फायदा

वास्तु के कुछ छोटे-छोटे नियम हैं, जिन्हें सामान्य तौर पर ध्यान रखा जा सकता है।

Danik Bhaskar | Jun 25, 2018, 04:10 PM IST

रिलिजन डेस्क। नया घर हो, दुकान, फैक्ट्री या ऑफिस। अगर वास्तु की छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखा जाए तो कई परेशानियों से बचा जा सकता है। वास्तु विद् के.एन. शर्मा के मुताबिक वास्तु के कुछ छोटे-छोटे नियम हैं, जिन्हें सामान्य तौर पर ध्यान रखा जा सकता है। इससे उस जगह से हमें वैसा लाभ मिलता है, जिसकी उम्मीद की जाती है।

जब भी हम कोई बिजनेस शुरू करते हैं, तो उम्मीद करते हैं उसमें सफलता जरूर मिले। इसीलिए बिजनेस के लिए ऑफिस निर्माण करते समय पूजा-पाठ भी करते हैं। लेकिन पूजा-पाठ के साथ वास्तु को ध्यान रखना बेहद जरूरी है। इसके लिए ये वास्तु उपाय आजमा सकते हैं। वैसे ही घर बनवाते समय भी इसका ध्यान रखना चाहिए। कुछ चीजें ऐसी हैं जो बाद में भी पता चलें तो उसको बदला जा सकता है।

ये हैं वो 5 नियम

1 - पानी का जो भी स्रोत हो वो ईशान कोण यानी उस प्लॉट के उत्तर-पूर्वी कोने में होना चाहिए। बोरिंग करवाते समय इस बात का ध्यान रखा जाए तो इससे जुड़े दोषों से बच सकते हैंय़

2 - लॉन एवं पार्किंग के लिए हमेशा ईशान दिशा (उत्तर-पूर्व कोना) का चुनाव करें।

3 - भवन के गेट के सामने कोई खंभा या बड़ा पेड़ न हो।

4 - मुख्य द्वार हमेशा उत्तर दिशा में ही रखें। यह शुभ माना गया है।

5 - निर्माण के समय यह सुनिश्चित करें प्लॉट चारों कोनों से समान हो। अगर प्लॉट चौकोर नहीं हो तो ये यहां रहने वाले या काम करने वाले के लिए नुकसानदायक होता है।

Related Stories