--Advertisement--

Dating Tips : ब्लाइंड डेट एंजॉय करने के लिए ये 6 टिप्स अपनाएं

ब्लाइंड डेट ऐसी तारीख है, जहां लड़का-लड़की आपस में अनजान होते हैं और दोनों एक-दूसरे के बारे में कुछ भी नहीं जानते।

Dainik Bhaskar

Jun 04, 2018, 12:15 PM IST
देर से आने वाले को वक्त की कद्र न करने वाला समझा जाता है। आपकी देरी बताएगी कि शायद अापको दिलचस्पी कम है। देर से आने वाले को वक्त की कद्र न करने वाला समझा जाता है। आपकी देरी बताएगी कि शायद अापको दिलचस्पी कम है।

रिलेशनशिप डेस्क. ब्लाइंड डेट आजकल नया शगल है। ब्लाइंड डेट को लेकर युवा रोमांचित जरूर रहते हैं। हालांकि, इसके संभावित खतरों को देखते हुए कई लोग ब्लाइंड डेट पर जाने से बचते भी हैं। यह एक ऐसी तारीख है, जहां लड़का-लड़की आपस में अनजान होते हैं और दोनों एक-दूसरे के बारे में कुछ भी नहीं जानते।

6 पॉइंट जो आपकी ब्लाइंड डेट को सफल बनाएंगे

01. झूठ बिल्कुल न बोलें
अपने बारे में बड़ी-बड़ी ढींगें हांकने से बचें। अपने बारे में उम्र के बारे में, नौकरी और सैलरी के बारे में, अपनी शादी की स्थिति के बारे में, अपनी ऊंचाई, अपने वजन के बारे में या अन्य कुछ भी झूठ न बोलें। क्योंकि बाद में जब हकीकत से पर्दा हटेगा तो सामने वाले पर आपका गलत इंप्रेशन बन सकता है।

02. विनम्र रहें
आप ब्लाइंड डेट पर विनम्र रहें। इस बात को ध्यान रखें कि ब्लाइंड डेट पर जिस असुविधाजनक स्थिति से आप गुजर रहे हैं आपके सामने वाला भी उसी हालत से गुजर रहा है। इसलिए अगर आप सम्मान नहीं दिखाएंगे तो दूसरे व्यक्ति को बुरा लग सकता है। आप सहज व्यवहार रखें।

03. समय पर पहुंचें
अगर आप मिलने की जगह पर समय से पहले आ जाते हैं तो आरामदेह महसूस करेंगे। इसके साथ ही खुद को मुलाकात के लिए मानसिक रूप से तैयार भी कर लेंगे। देर से आने वाले को वक्त की कद्र न करने वाला समझा जाता है। आपकी देरी बताएगी कि शायद अापको दिलचस्पी कम है।

04. बातचीत की कमी
पहले ही निश्चित कर लें कि किन विषयों पर बात करनी है। सामने वाले की पसंद-नापसंद के बारे में अंदाजा नहीं होता और अक्सर यही ब्लाइंड डेट के नाकामयाब होने की वजह बनती है। आप कोई भी आसान विषयों के बारें में बात कर सकते हैं। इससे बात को नई रवानी मिलेगी।

05. खुले दिमाग से जाएं
अपने संभावित साथी के बारे में कोई पूर्वाग्रह न रखें। किसी भी तरह की वैचारिक संकीर्णता डेट का मजा किरकिरा कर सकती है। एक-दूसरे के साथ अच्छा वक्त बिताने की कोशिश करें। अगर मिलने के बाद वह आपको ठीक लगता है तब आप अपनी उम्मीदें लगा सकते हैं।

06. उत्साहित और नर्वस न हों
आपकी बॉडी लैंग्वेज ही आपकी मन की बातों को बयां कर देती है। ऐसे में आपको ब्लाइंड डेट पर सहज रहना बहुत जरूरी है। न तो बहुत ज्यादा उत्सा‍हित हों और न ही बहुत ज्यादा नर्वस। खुद को संयमित रखना बेहद जरूरी है। आपका संतुलित रहना आपके लिए प्लस पॉइंट रहेगा।

एक-दूसरे के साथ अच्छा वक्त बिताने की कोशिश करें। अगर मिलने के बाद वह आपको ठीक लगता है तब आप अपनी उम्मीदें लगा सकते हैं। एक-दूसरे के साथ अच्छा वक्त बिताने की कोशिश करें। अगर मिलने के बाद वह आपको ठीक लगता है तब आप अपनी उम्मीदें लगा सकते हैं।
X
देर से आने वाले को वक्त की कद्र न करने वाला समझा जाता है। आपकी देरी बताएगी कि शायद अापको दिलचस्पी कम है।देर से आने वाले को वक्त की कद्र न करने वाला समझा जाता है। आपकी देरी बताएगी कि शायद अापको दिलचस्पी कम है।
एक-दूसरे के साथ अच्छा वक्त बिताने की कोशिश करें। अगर मिलने के बाद वह आपको ठीक लगता है तब आप अपनी उम्मीदें लगा सकते हैं।एक-दूसरे के साथ अच्छा वक्त बिताने की कोशिश करें। अगर मिलने के बाद वह आपको ठीक लगता है तब आप अपनी उम्मीदें लगा सकते हैं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..