60 मरीजों की जांच, होम आईसोलेशन की सलाह

Bihar Sharif News - जिले में कोरोना के संदेहास्पद मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। हालांकि सदर अस्पताल में अभी तक मात्र दो मरीज को...

Mar 27, 2020, 06:41 AM IST
Bihar Sharif News - 60 patients examined home isolation advice

जिले में कोरोना के संदेहास्पद मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। हालांकि सदर अस्पताल में अभी तक मात्र दो मरीज को आईसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। इनमें से भी एक की रिपोर्ट निगेटिव आयी है। शेष को सिजनल समस्या बताकर होम आईसोलेशन की सलाह दी जा रही है। एक का सेंपल जांच के लिए भेजा गया है। विभागीय जानकारी के अनुसार अभी तक 1 हजार 112 संदेहास्पद मरीज मिले हैं लेकिन किसी में कोरोना का लक्षण नहीं मिलने के कारण होम आईसोलेशन में रहने की सलाह देकर घर भेज दिया गया है। गुरुवार को कुल 182 लोगों का इलाज किया गया है। जिसमें 60 संदेहास्पद मरीज बताया जा रहा है। वहीं हेल्प लाईन सेंटर में 5 बजे तक 52 कॉल आए हैं। हेल्प लाईन के माध्यम से आने वाले सभी कॉल में सभी लोग बाहर से आए हैं और उन्हें सर्दी, खांसी और बुखार से संबंधित समस्या बतायी गयी है। सदर अस्पताल में प्रतिदिन करीब 30-50 संदेहास्पद मरीज आ रहे हैं। सभी की सीबीसी जांच के बाद मौसमी समस्या बताकर वापस घर भेजा जा रहा है। हालांकि कुछ मरीजों को जांच लिखा गया है जिसकी सुविधा विम्स में है। लेकिन इसके बावजूद भर्ती नहीं लिया गया है। डीएस डॉ. उदय कुमार सिंह ने बताया कि गुरुवार को करीब 60 संदेहास्पद मरीज आए हैं। प्रारंभिक जांच में किसी मरीज में कोरोना का लक्षण नहीं पाया गया है। सभी लोगों को घर भेज दिया गया है। साथ ही 14 दिन के अंदर स्थिति में सुधार नहीं होता है तो पीएचसी या सदर अस्पताल में दुबारा आने की सलाह दी गई है।

मरीज न आएं, इसी कारण बंद

कोरोना का भय निजी क्लिनिक के चिकित्सकों को भी है। कोरोना के मरीज नहीं पहुंचे इसके लिए ओपीडी सेवा बंद कर दी गई है। सिर्फ इमरजेंसी मरीज को देखा जा रहा है। हालांकि यह भी सभी क्लीनिकों में सुविधा नहीं है। किसी भी निजी क्लिनिक में आईसोलेशन वार्ड की व्यवस्था नहीं की गई है। कई निजी अस्पतालों के प्रबंधक ने बताया कि सर्दी, खांसी व कोरोना से संबंधित अन्य लक्षणों के मरीजों को सदर अस्पताल भेजा जा रहा है। क्योंकि वहां आईसोलेशन वार्ड उपलब्ध है। बता दें कि सरकारी अस्पताल में भी ओपीडी बंद कर दी गयी है और कॉल के आधार पर इलाज की सुविधा दी जा रही है। दोपहर को निरीक्षण के दौरान सीएस ने रजिस्ट्रेशन काउंटर एवं इमरजेंसी में 1 मीटर की दूरी पर खड़ा रहने की सलाह दी। कंन्ट्रोल रूम में भी सावधानी नहीं बरती जा रही है। यहां कुल दो चिकित्सक समेत छह कर्मी को प्रतिनियुक्त किया गया है। इनके बीच कोई दूरी नहीं है।

पुलिसकर्मी का इंतजार करते सीएस।

X
Bihar Sharif News - 60 patients examined home isolation advice

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना