• Aisha Kyun
  • parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
विज्ञापन

स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत / स्त्री हो या पुरुष, सुबह ये काम करने से चमकती है किस्मत

धर्म डेस्क. उज्जैन

Feb 01, 2013, 08:09 AM IST

पुराने समय से ही किस्मत चमकाने और अच्छा स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए कई प्रकार की परंपराएं चली आ रही हैं।

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

पुराने समय से ही किस्मत चमकाने और अच्छा स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए कई प्रकार की परंपराएं चली आ रही हैं। कुछ परंपराएं स्त्री और पुरुष दोनों के लिए समान रूप से लागू होती हैं। यहां जानिए ऐसी ही एक परंपरा जिससे आपकी किस्मत तो चमकती है, साथ ही आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है और समाज में मान-सम्मान भी मिलता है।

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

क्या आप जानते हैं प्रतिदिन सूर्य को जल चढ़ाना कितना चमत्कारी काम है। शास्त्रों के अनुसार को प्रत्यक्ष देवता माना गया है क्योंकि सूर्य ही ऊर्जा का एकमात्र ऐसा स्रोत है तो सभी को एक समान ऊर्जा प्रदान करता है। सूर्य भी एक कारण है जिसकी वजह से सभी पेड़-पौधे, जीव-जन्तु जीवित हैं। ज्योतिष के अनुसार भी सूर्य को सभी ग्रहों का राजा माना गया है। इसी वजह से सूर्य की नियमित रूप से आराधना करने पर व्यक्ति को चमत्कारी लाभ प्राप्त होते हैं। आगे के फोटो में जानिए सूर्य को जल चढ़ाने की सही विधि, लाभ और बहुत सी खास बातें...

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

 

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

सूर्य को चढ़ाने से सीधे हमें लाभ प्राप्त होते हैं। सुबह-सुबह के समय जल्दी उठने से ताजी हवा और सूर्य की किरणों से हमारे स्वास्थ्य को लाभ होता है, यह सभी जानते हैं। इसके अलावा सूर्य को जल चढ़ाते समय पानी के बीच से सूर्य को देखना चाहिए, ऐसे में सूर्य की किरणों से हमारी आंखों की नैत्र ज्योति भी बढ़ती है। सूर्य की किरणों में विटामिन डी के कई गुण भी मौजूद होते हैं। इसलिए जो भी व्यक्ति उगते सूर्य को जल चढ़ाता है वह तेजस्वी होता है, उसकी त्वचा में आकर्षक चमक आ जाती है।

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

 

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

विज्ञान की दृष्टि से देखा जाए तो सूर्य और पृथ्वी के बीच करीब 1496000000 किलोमीटर की दूरी है। पृथ्वी तक सूर्य का प्रकाश पहुंचने में 8 मिनट 19 सेकेंड का समय लगता है। सूर्य ही सभी जीव-जन्तुओं के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण ऊर्जा का स्रोत है। पेड़- पौधों को तो भोजन भी सूर्य के कारण ही मिलता है। पुराने ऋषि-मुनियों द्वारा बताया गया है कि सूर्य को जल देने से हमारे शरीर के हानिकारक तत्व नष्ट हो जाते हैं।

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

 

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

सूर्य को देवता माना जाता है, इनकी पूजा के लिए कई विधियां भी बताई गई है। सूर्य देव को प्रतिदिन जल अर्पित करने पर हमारी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है। साथ ही आंखों की रोशनी बढ़ती है और त्वचा में तेज पैदा होता है। समाज में मान-सम्मान की प्राप्ति होती है, यश मिलता है।

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

 

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को यश और मान-सम्मान का कारक ग्रह माना जाता है। किसी भी व्यक्ति की कुंडली में उच्च का सूर्य होने पर वह प्रतिष्ठित और तेजस्वी होता है। ऐसे व्यक्ति को समाज में सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। वहीं इसके विपरित नीच का या अशुभ फल देने वाला सूर्य होने पर व्यक्ति को कई प्रकार के कलंक झेलने पड़ सकते हैं। आंखों या त्वचा से संबंधित रोग हो सकते हैं। इनसे बचने के लिए प्रतिदिन सूर्य को जल अर्पित करना चाहिए।

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

 

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

सूर्य को जल चढ़ाते समय ध्यान रखना चाहिए कि सूर्य को कभी भी सीधे नहीं देखना चाहिए। जल चढ़ाते समय पानी की धारा के बीच से सूर्य को देखें। इस प्रकार सूर्य की किरणों से आपकी आंखों की ज्योति भी बढ़ेगी। सूर्य को सुबह-सुबह जल्दी ही ज्यादा से ज्यादा 7-8 बजे तक जल चढ़ाना चाहिए। अधिक देर से जल नहीं चढ़ाना चाहिए।

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

 

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

सूर्य से शुभ फल प्राप्त करने के लिए रविवार के दिन सूर्य के निमित्त विशेष पूजा-अर्चना करनी चाहिए। साथ ही इस दिन सूर्य से संबंधित वस्तुओं का दान करने की परंपरा है। सूर्य से संबंधित वस्तुएं जैसे पीले वस्त्र या अन्य पीले रंग की खाद्य सामग्री का दान किसी जरूरतमंद व्यक्ति को किया जाता है।

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

 

parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
  • comment

सूर्य को चढ़ाने के लिए तांबे के लौटे का उपयोग करना चाहिए। लौटे में शुद्ध जल भरें और उसमें चावल और कुमकुम, पुष्प, गुड़ आदि पूजन सामग्री भी डाल लेना चाहिए। इसके बाद लौटे से सूर्य को जल चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय सूर्य मंत्र ऊँ सूर्याय नम:, ऊँ भास्कराय नम:, ऊँ रवये नम:, ऊँ आदित्याय नम:, ऊँ भानवे नम: आदि का जप करते रहना चाहिए।

नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें और पढ़िए अन्य परंपराएं, पढ़िए चाणक्य नीतियां

स्त्री हो या पुरुष ये चार काम होने के बाद नहाना जरूरी है

स्त्री के स्वभाव की बातें किसी को नहीं बताना चाहिए

जानिए किस व्यक्ति को कैसे वश में करना चाहिए

शादी का सातवां वचन: पति कभी भी पराई स्त्री को टच नहीं करेगा

 

X
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
parampara we should do this work daily in the morning to get happiness in life
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन