पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • मोहल्लों में जलजमाव, घर से निकलना मुश्किल

मोहल्लों में जलजमाव, घर से निकलना मुश्किल

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहरमें शुक्रवार को हुई बारिश के बाद कई मोहल्लों में जलजमाव हो गया है। लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है। बारिश ने सड़कों की सूरत बिगाड़ दी है। कई जगहों पर कीचड़ से फिसलन हो गई है। एनएमसीएच इमरजेंसी के बाहर जलजमाव होने से मरीजों को आने-जाने में परेशानी हुई। वहीं, टीबीडीसी में पहले से ही पानी जमा था, जो बारिश के बाद और बढ़ गया। वार्ड नंबर 72 के बंसवरीया टोला में जलजमाव से लोग परेशान हैं। यहां दो दिन पहले मोटर लगाकर पानी निकाला गया था। यहां पर सड़क की दोनों ओर नाला नहीं है। सिटी स्कूल परिसर में भी जलजमाव की स्थिति हो गई है। रामकृष्ण कॉलोनी, संदलपुर रोड, पंचवटी, कस्तूरबा नगर, महावीर कॉलोनी, जय महावीर कॉलोनी, विकास कॉलोनी रोड नंबर एक, संंदलपुर रोड, अलका कॉलोनी, पटेल काॅलोनी, बजरंगपुरी कॉलोनी और वाचस्पतिनगर समेत कई मोहल्ले में पानी जमा है। लोगों को गंदे पानी में घुस कर आना-जाना पड़ रहा है। सबसे अधिक परेशानी स्कूली बच्चों को हो रही है। बजरंगपुरी कॉलोनी में सड़क पर जहां-तहां गड‌्ढे हो गए हैं। नाले सड़क का फर्क मिट गया है। वाहन सवार गिरकर चोटिल हो रहे हैं। वहीं, सैदपुर नाले के किनारे स्थित स्कूल के सामने नाले की दीवार टूट जाने से नाले सड़क का फर्क मिट गया है। यहां पर गड‌्ढा हो गया है। स्थानीय निवासी बबलू कुमार ने बताया कि एक मोटरसाइकिल सवार गड‌्ढे में गिर गया। किसी तरह उसे बचाया गया। मीना बाजार, गुलजारबाग, अगमकुआं के पास सब्जी मंडी में कीचड़ से फिसलन हो गई है। लोगों का चलना मुश्किल हो गया है। लोगों का कहना है कि अभी एक दिन की बारिश में जब यह स्थिति है तो लगातार बारिश होने पर क्या होगा। जलजमाव से चलना दूभर हो गया है।

मेयर का निरीक्षण रद्द

शुक्रवारको बारिश की वजह से मेयर का वार्ड नंबर 54 56 में सफाई व्यवस्था के निरीक्षण का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया। मेयर सीता साहू हर दिन वार्ड में सफाई व्यवस्था का जायजा ले रही हैं। निगम के सिटी अंचल से इसकी शुरुआत की गई है। इसके बाद वे हर अंचल के वार्ड का निरीक्षण करेंगी।

एनएमसीएच में जांच बाधित

पटना सिटी| बारिशकी वजह से मेडिसिन विभाग स्थित पैथोलॉजी केंद्र में मरीजों की जांच बाधित हो गई। छत से पानी रिसता है। बारिश का पानी जांच केंद्र में घुस जाता है। वार्डों में भी पानी घुस जाता है। टेक्नीशियनों की मानें तो जांच केंद्र में मशीन चलाने पर शॉर्ट सर्किट का डर बना रहता है। मशीन में भी खराबी आने की आशंका रहती है। इस कारण जांच बाधित हो गई। अस्पताल के उपाधीक्षक डाॅ. गोपाल कृष्ण ने बताया कि मरीजों की जांच सेंट्रल पैथोलॉजी में कराई गई।

ईओ ने किया पहाड़ी संप हाउस का निरीक्षण

पटना सिटी|नगर निगमसिटी अंचल के कार्यपालक पदाधिकारी ने शुक्रवार को वार्ड नंबर 52, 56 62 के कई इलाकों का निरीक्षण किया। उन्होंने जलजमाव को दूर करने का निर्देश दिया। उन्होंने मंगल तालाब, सिटी स्कूल मैदान, पहाड़ी संप हाउस, करमलीचक, पटना साहिब स्टेशन अशोक राजपथ का निरीक्षण किया। सिटी स्कूल मैदान में जलजमाव को देख उसे हटाने का निर्देश दिया। वहीं पहाड़ी संप हाउस के मोटर में आयी गड़बड़ी को तुरंत दुरुस्त कराया गया। कई निचले इलाकों में जलजमाव की स्थिति रही। ईओ अजय कुमार, नगर प्रबंधक रंधीर कुमार मुख्य सफाई निरीक्षक संजीव वर्मा ने बताया कि बारिश के कुछ घंटे के बाद ही अधिकतर इलाकों से पानी निकल गया।

एनएमसीएच के मेडिसिन विभाग में बारिश का पानी जम गया, जिसे सफाईकर्मियों ने निकाला। इस दौरान मरीज परेशान रहे। दूसरी तरफ, अलकापुरी में सड़क पर जलजमाव हो गया है। इसमें गड‌्ढे नजर नहीं रहे हैं।

पटना सिटी| बारिशके कारण बिस्कोमान फीडर में आई खराबी से बिजली आपूर्ति बाधित हो गई। ट्रिपिंग के कारण भी दिन भर बिजली की आवाजाही लगी रही। वहीं, चौक फीडर से करीब आधे घंटे तक बिजली बाधित रही। मारुफगंज पीएसएस से जुड़े एक नंबर फीडर के 11 केवी के इंसुलेटर में अाई खराबी के कारण दिन में करीब आठ से 10 बजे तक बिजली आपूर्ति बाधित रही। इससे दर्जनों मोहल्ले प्रभावित रहे। कई इलाकों में बारिश थमने के बाद बिजली आपूर्ति सामान्य हुई। मारुफगंज पीएसएस के सहायक विद्युत अभियंता सुरेंद्र कुमार ने बताया कि 11 केवी लाइन में आई खराबी को दूर कर बिजली आपूर्ति बहाल की गई। करीब दो घंटे तक बिजली बाधित रही।

खबरें और भी हैं...