• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • केंद्रीय टीम ने भी माना राज्य में इस साल बाढ़ से हुई भारी क्षति

केंद्रीय टीम ने भी माना राज्य में इस साल बाढ़ से हुई भारी क्षति

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राज्यमें बाढ़ से हुई क्षति का जायजा लेने आई केंद्रीय टीम ने भी माना कि 19 जिलों में बाढ़ के दौरान जानमाल की भारी हानि हुई है। शनिवार को वापस लौटने से पहले टीम ने विभिन्न विभागों के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक के बाद आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि तीन दलों में बंटी आठ सदस्यीय केन्द्रीय टीम ने विभिन्न जिलों का दौरा कर बाढ़ से हुए नुकसान का जायजा लिया। टीम ने जिलावार प्रतिवेदन के आलोक में क्षति का जायजा लिया। इसके अलावा जिलों में विभागीय पदाधिकारियों के साथ बैठकें की। प्रधान सचिव ने बताया कि केन्द्रीय टीम ने कृषि और गाद से संबंधित और ब्योरा देने का निर्देश दिया है। जल्द ही इन आंकड़ों को भेज दिया जाएगा। प्रधान सचिव ने बताया कि नए तथ्यों के शामिल करने से क्षति का आंकड़ा बढ़ने की संभावना नहीं है। इस बीच बेतिया और मोतिहारी के दौरे पर गई टीम ने अपना दौरा एक दिन बढ़ा दिया।

क्षतिका आकलन : राज्यके 19 जिले, 187 प्रखंडों, 2371 पंचायतों की 1.71 करोड़ की आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है। इस दौरान 514 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी।

चार को दौरे पर आई थी आठ सदस्यीय टीम

आठसदस्यीय टीम चार अक्टूबर को राजधानी पहुंची थी। पांच अक्टूबर को मुख्य सचिव और विभागीय प्रधान सचिव पावर प्वाइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से क्षति का ब्योरा लेने के बाद टीम बाढ़ग्रस्त जिलों के दौरे पर निकली। टीम में मुकेश मित्तल, राजेश कुमार, राकेश कुमार, एस सी शर्मा, आर बी कौल, वीरेंद्र सिंह, अखिलेश कुमार झा और विजय ठाकरे शामिल थे।

खबरें और भी हैं...