• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • बिहार : सोन में फिर उफान, गंगा भी बढ़ेगी, NDRF की 16 टीम ने 5000 को निकाला
--Advertisement--

बिहार : सोन में फिर उफान, गंगा भी बढ़ेगी, NDRF की 16 टीम ने 5000 को निकाला

दो दिन पहले मध्यप्रदेश के वाणसागर डैम से छोड़े गए पानी के बिहार पहुंचने से सोन नदी में फिर उफान आ गया है। सोमवार को महज दो घंटे में ही सोन में डेढ़ लाख क्यूसेक से अधिक पानी पहुंच गया।

Dainik Bhaskar

Aug 23, 2016, 12:52 AM IST
बिहार में डूबने से 95 लोगों की म बिहार में डूबने से 95 लोगों की म
नई दिल्ली/पटना/लखनऊ. बिहार में आई बाढ़ में अब तक 95 लोगों की मौत हो चुकी है। 12 जिलों में 20 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हैं। औरंगाबाद जिले में पुनपुन नदी में डूबी नाव पर सवार लोगों की तलाश जारी है। नाव पर बैठे 25 लोगों में से 7 को बचा लिया गया है। पटना में भी 7 लोगों की डूबने से मौत हुई है। इस बीच, गंगा और सोन नदी का वाटर लेवल कम हो गया है। उधर, पूर्वी उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, गुजरात, असम के कई इलाकों में भी बाढ़ के हालात हैं। लालू बोले- किस्मतवाले हैं कि गंगा मइया आपके घर तक पहुंच गईं...
- आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव ने अपने अंदाज में बाढ़ पीड़ितों को गंगा के खौफ से मुक्त करने की कोशिश की है।
- उन्होंने बाढ़ पीड़ितों से कहा- "आप लोग तो किस्मतवाले हो कि गंगा मइया आपके घर और रसोई तक पहुंच गई हैं।"
- "गंगाजल को तड़पते थे। और जब गंगा मइया घर तक पहुंच गईं, तो डर गए हैं, घबरा गए हैं।"
- "खैर, अब गंगा मइया को पूजिए और उनसे और तकलीफ नहीं देने की प्रार्थना कीजिए। गारंटी है कि वह वापस चली जाएंगीं।"
- लालू बीते सोमवार को बाढ़ पीड़ितों के बीच थे। उनका दुख-दर्द पूछ रहे थे। राहत, बचाव कार्य का हाल जान रहे थे।
नीतीश ने मोदी से की मुलाकात, मदद का भरोसा
- नीतीश कुमार ने बिहार में बाढ़ के हालात पर नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। उन्होंने पीएम से एक्सपर्ट्स की एक टीम बिहार भेजने की अपील की।
- नीतीश ने मोदी से यह भी कहा कि- "बिहार में गंगा की हालत देखकर रोने का मन करता है। इस नदी में सिल्ट की प्रॉब्लम को खत्म करने से ही हर साल आने वाली बाढ़ से निजात पाई जा सकती है।"
- मोदी के साथ मीटिंग के बाद नीतीश कुमार ने कहा- "पीएम ने तत्काल मदद का भरोसा दिलाया है। उन्होंने एक नेशनल सिल्ट मैनेजमेंट पॉलिसी बनाने की भी बात कही है।"
- नीतीश ने मोदी सरकार के महत्वाकांक्षी 'नमामि गंगे प्रोजेक्ट' पर बिहार में बेहतर सिल्ट मैनेजमेंट के साथ अमल की भी बात कही है।
- सीएम ने कहा- "अगर हालात पर ध्यान नहीं दिया गया तो इस प्रोग्राम की सफलता पर सवाल खड़े होंगे।"
- नीतीश ने फरक्का बांध की यूटिलिटी की भी बात की। कहा- "यह देखा जाना चाहिए कि इस बांध से फायदा अधिक हो रहा है या नुकसान।"
छिछली होती जा रही है गंगा
- नीतीश ने कहा- "जब से फरक्का बांध बना है, गंगा में सिल्टेशन हो रहा है।"
- "गाद बैठने के चलते नदी छिछली होती जा रही है और फैल रही है।"
- "गर्मी के दिनों में गंगा में बहुत कम पानी रहता है और बरसात में ज्यादा पानी आने पर बाढ़ आ जाती है।"
कैसे आई बिहार में बाढ़ ?
- सोमवार को सोन नदी में महज 2 घंटे में मध्य प्रदेश के बाणसागर डैम से डेढ़ लाख क्यूसेक से ज्यादा पानी पहुंच गया।
- इसके चलते गंगा समेत सभी बड़ी नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं।
- वेस्ट बंगाल में फरक्का बैराज का गेट न खोले जाने के कारण गंगा का पानी लगातार बिहार में बढ़ रहा है। एनडीआरएफ ने 5 हजार लोगों को निकाला है।
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें: 20 जिलों में बाढ़ का कहर, 12 जिलों के लिए 12 घंटे अहम...
यह भी पढ़ें -
X
बिहार में डूबने से 95 लोगों की मबिहार में डूबने से 95 लोगों की म
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..