पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • आम बजट: बिहार को मिलेगा एम्स की तरह एक और संस्थान

आम बजट: बिहार को मिलेगा AIIMS की तरह एक और संस्थान

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली/पटना. देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शनिवार को एनडीए सरकार का पहला पूर्ण बजट पेश किया। बजट में देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती देने और वित्तीय सुधार पर जोर दिया गया है। साथ ही सरकार का जोर शहर और गांवों को जोड़ने के लिए हर परिवार को सस्ते घर मुहैया कराने पर जोर दिया है। 
 
आंध्र प्रदेश की तरह बिहार को भी विशेष सहायता 
वित्त मंत्री ने बिहार में एम्स की तरह एक और संस्थान खोलने की बात कही। साथ ही आंध्र प्रदेश की तरह बिहार को भी विशेष सहायता देने की योजना बताई। बताते चलें कि फिलहाल पटना में एक एम्स मौजूद है।
 
 
कुछ महत्वपूर्ण घोषणा व लक्ष्य
> इनकम टैक्स स्लैब में कोई परिवर्तन नहीं
> शहरों में दो करोड़ और गांवों में 4 करोड़ सस्‍ते घर बनाए
> 2022 तक देश के सभी परिवार को घर देने का लक्ष्य।
> 5 किमी के भीतर प्रत्येक बच्चे के लिए सीनियर सेकेंड्री स्कूल बनाने का लक्ष्य।
> अटल पेंशन योजना की शुरुआत होगी। एक हजार लोग देंगे, एक हजार सरकार देगी। अगले पांच साल सरकार एक हजार रुपए देगी।
> प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा प्‍लान की शुरुआत होगी। हर साल 12 रुपए का प्रीमियम देकर दो लाख रुपए तक का दुर्घटना बीमा किया जाएगा।
> पीपीएफ में बिना दावे के तीन हजार करोड़ रुपए जमा हैं। ऐसे ही बड़ी रकम ईपीएफ में भी है। इस रकम का इस्तेमाल गरीबों के लिए किया जाएगा।
> जन धन आधार मोबाइल (जेएएम) योजना की शुरुआत होगी।
> डाकखानों का भी इस्तेमाल जन धन योजना में किया जाएगा।
> ई बिज पोर्टल की शुरुआत होगी, जहां बिजनेस करने के लिए 14 तरह की मंजूरियां एक जगह मिलेगी।
> सड़कों के लिए 14 500 करोड़ और रेल के लिए 10 हजार करोड़ रुपए आवंटित किया जाएगा।
> बंद नहीं होगी मनरेगा, इस साल 34,699 करोड़ रुपए का आवंटन।