पटना

--Advertisement--

चारा घोटाला में जेल गए पूर्व सीएम की पत्नी की आखिरी इच्छा,पढ़ें क्या कहा!

जगन्नाथ मिश्रा की पत्नी बोलीं- अब यही प्रार्थना है कि वो आबाद रहें, मुझे और कुछ नहीं चाहिए।h

Danik Bhaskar

Oct 02, 2013, 11:33 AM IST
पटना/रांची। जब हमारी तकदीर में यही लिखा था तो पहले ही हो गया होता, वह ज्यादा अच्छा था। अब तो यही प्रार्थना है वो आबाद रहें और मैं उनके जीते-जी चली जाऊं। मुझे और कुछ नहीं चाहिए। मैंने इससे ज्यादा कभी कुछ नहीं चाहा। यह कहना है बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा की पत्नी बीना मिश्रा का। चारा घोटाले में वे भी दोषी करार दिए गए हैं। बीना कहती हैं, यह क्षण बड़ा दुखदायी है। भगवान किसी को पति से अलग न करे।
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें खुद के राजनीति में आने की बात पर क्या कहा...
जो लिखा है भोगना ही पड़ेगा
 
सोमवार को ही बीना रांची आ गई थीं। कहती हैं, उनके पति हमेशा से रूल्स रेगुलेशन का पालन करते आए हैं। आगे भी करते रहेंगे। उनसे मिलने की क्या व्यवस्था होती है, देखते हैं। जो अनुकूल होगा करेंगे। भगवान ने जो लिखा है, उसे तो हर हाल में भोगना ही पड़ेगा।
राजनीति पसंद नहीं, करती तो ऊंचाई पर होती 
 
बीना कहती हैं कि मुझे राजनीति करना पसंद नहीं। मैने हमेशा नेपथ्य में भूमिका निभाई है। ये कई शीर्ष पदों पर रहे हैं। मुझे राजनीति पसंद होती और मैं यदि राजनीति करती तो आज बहुत ऊंचाई पर होती।
जगन्नाथ मिश्रा कॉटेज नंबर 13 से 11 में शिफ्ट
 
रांची। सोमवार को रिम्स के कॉटेज नंबर 13 में भर्ती कराए गए चारा घोटाले में दोषी बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा को मंगलवार शाम कॉटेज नंबर 11 में शिफ्ट करा दिया गया। प्रबंधन का कहना है कि कॉटेज नंबर 11 में वेस्टर्न बाथरूम है। इसी वजह से उन्हें कॉटेज नंबर 13 से यहां शिफ्ट किया गया है। जबकि सूत्रों का कहना है कि इसकी मुख्य वजह यह है कि कॉटेज नंबर 13 एयर कंडीशन्ड है।इसे लालू प्रसाद यादव के लिए रिम्स प्रबंधन ने रिजर्व रखा है। लालू यादव और जगन्नाथ मिश्र के रांची आने और सजा की संभावना को देखते हुए रिम्स प्रबंधन भी तैयार था। रिम्स प्रबंधन को इस बाबत पहले आलाकमान से दिशा-निर्देश मिल गए थे। कॉटेज नंबर 11 और 13 की साफ-सफाई करा दी गई थी।
जगन्नाथ मिश्र ने खाई पीली दाल व एक रोटी
 
रांची। जगन्नाथ मिश्र बाहर का खाना पसंद नहीं करते हैं। वे मसालेदार खाना भी नहीं खाते हैं। मंगलवार सुबह नहाने-धोने के बाद उन्होंने दुर्गा सप्तशती का पाठ किया। फिर दो ब्राउन ब्रेड की स्लाइस, छेना व कुछ सेव के टुकड़े नाश्ता किए। दोपहर में एक रोटी, एक छोटी कटोरी पीली दाल, उबली हुई हरी सब्जियां व एक कटोरी दही खाया। सोमवार रात को भी खाने में एक रोटी, पीली दाल एवं उबली हुई हरी सब्जियां ली थी। इनके लिए खाने बाहर से मंगाए जा रहे हैं। वहीं रिम्स में मंगलवार को इनका सीरम क्रिटनीन, सोडियम, पोटेशियम एवं रुटीन ब्लड शूगर टेस्ट किया गया।
Click to listen..