--Advertisement--

DB Spotlight: बंद नहीं होगा Food Panda, CEO सौरभ कोचर ने दिए बेबाक जवाब

FoodPanda को लेकर कई दिनों से खबरों का बाजार गर्म था और लोग समझ रहे थे कि ये कंपनी इंडिया में जल्दी ही अपना कारोबार समेट सकती है।

Dainik Bhaskar

Oct 27, 2015, 01:20 PM IST
DB Spotlight on Saurabh Kochhar CEO FoodPanda
नेटिव कंटेंट डेस्क । देश के सबसे बड़े ऑनलाइन फूड ऑडर प्लैटफॉर्म foodpanda को लेकर मार्केट में चल रही तमाम अटकलों को कंपनी के CEO सौरभ कोचर ने क्लियर कर दिया है। 2012 में लॉन्च हुए Online & Mobile App बेस्ड फूड सर्विस foodpanda को लेकर कई दिनों से खबरों का बाजार गर्म था और लोग समझ रहे थे कि ये कंपनी इंडिया में जल्दी ही अपना कारोबार समेट सकती है।
dainikbhaskar.com के स्पेशल शो DB Spotlight में प्रीति हून के साथ एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में सौरभ ने कहा है, 'हम दूसरों के सोचने और कमेंट करने से पहले अपनी प्रॉब्लम्स ढूंढ़ने का जज़्बा रखते हैं। foodpanda के लिए इंडिया सबसे खास मार्केट है और यह बंद होने की बजाए ज्यादा तेजी से आगे बढ़ेगा।' सौरभ एकदम साफ कहते हैं कि, You Never Grow, If You Don't Fall इसलिए हमारा एजेंडा एकदम साफ है और हम अपने कस्टमर्स को क्वालिटी फूड के साथ अनमैचेबल सर्विसेज देते रहेंगे।
DB Spotlight में सौरभ ने अपने पहले वेंचर Print Avenue और foodpanda को लेकर कई ऐसी बातें बताईं जो न्यू वेंचर और स्टार्टअप्स करने वालों के लिए बेहद यूजफुल हैं। dainikbhaskar.com ने सौरभ के साथ बातचीत के बाद चुनें हैं 5 ऐसे सबक जो रीयल लाइफ में इंस्पायर और मोटिवेट करते हैं।
1. खुद को जगाएं : सौरभ कहते हैं कि, एक एंटरप्रेन्योर बनने के लिए आपको खुद को जगाना होता है। कुछ नया और बड़ा करने का एक थॉट या मौका आता है, लेकिन उसे पहचानना और लपक लेना जरूरी है। ऐसा तभी संभव है जब आप बहुत सारे भटकावों से खुद को फ्री करें और जागकर खुद को आगे बढ़ाते जाएं।
2. अच्छे लोगों से जुड़ें : किसी भी काम को अच्छी तरह करने के लिए पॉजिटिव एनर्जी की जरूरत होती है। ऐसी एनर्जी खुद के अंदर से भी मिलती है और अपने आसपास के लोगों से भी। सौरभ का कहना है कि अपने आसपास अच्छे लोग बनाए रखें। उनसे दोस्ती करें, उनकी केयर करें। ऐसे लोग निराशा के माहौल में भी उम्मीदें जगाते हैं।
3. डेडलाइन तय करें : कोई भी काम डिसिप्लीन से होता है। अगर आप कोई काम शुरू कर रहे हैं तो उसके लिए डेडलाइन भी दिमाग में रखें। सौरभ के दोनों वेंचर्स की सफलता में इस क्वालिटी का बड़ा कंट्रीब्यूशन है। वे कहते हैं कि, हमारे सामने गोल क्लियर हो जाए तो उसकी ओर बढ़ने का टाइम भी क्लियर होना चाहिए, तभी एफर्ट्स सही रिजल्ट देते हैं।
4. अपने कॉम्पिटीटर को पहचानें : आप किसी भी बिजनेस में हों, मार्केट कोई भी हो पर आप अकेले नहीं होते। हर मार्केट में आपके कॉम्पिटीटर पहले से होते हैं या समय के साथ बन जाते हैं। सौरभ कहते हैं कि आपको उन्हें पहचानना जरूरी है। ऐसा करने से आप अपनी स्ट्रैटजी और फ्यूचर प्लानिंग अच्छी तरह से कर पाते हैं।
5. कस्टमर की जरूरत बनें : सौरभ इस सबक को एक वैल्यू की तरह लेते हैं। वे कहते हैं कि अपने कस्टमर की जरूरत के हिसाब से ही बिजनसे प्लानिंग करनी चाहिए। अपनी स्ट्रैटजी और ब्रांडिंग में भी कस्टमर को ध्यान में रखें तो प्रोडक्ट की डिमांड बनी रहती है। ऑनलाइन मार्केट में तो ऐसा करना इसलिए भी जरूरी है कि आपका चेहरा नहीं, प्लैटफॉर्म कस्टमर फेसिंग होता है।
जानिए FoodPanda को :
FoodPanda की कॉन्सेप्ट को भारत लेकर आए थे अमित कोहली और रोहित चड्ढा। मई 2012 में अमित और रोहित ने foodpanda लॉन्च करके फूड डिलिवरी का ऑनलाइन प्लैटफॉर्म शुरू किया। फूड पांडा की साइट पर login करके या इसका एप डाउनललोड करके कस्टमर लिस्टेड रेस्टोरेंट्स से मनपसंद खाना ऑर्डर कर सकते है। यह कॉन्सेप्ट देश के यूथ और फूडीज़ को बेहद पसंद आया। आज foodpanda से देश के 2000 से ज्यादा रेस्टोरेंट्स का टाई-अप है, जिनमें डॉमिनोज, सब-वे, पिज्जा हट, फासोस जैसे नामी फूड रिटेलर्स के साथ जाफरान, यो चायना, सैफ्रोन जैसे रेस्टोरेंट्स के ऑप्शन्स मौजूद है। कमिशन बेस्ड रेवेन्यू मॉडल पर आधारित इस कारोबार में ग्राहकों के लिए फूड डिलिवरी सर्विस फ्री मिलती है।
X
DB Spotlight on Saurabh Kochhar CEO FoodPanda
Astrology

Recommended

Click to listen..