पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • 275 Year Old Handwritten Sri Guru Granth Sahib.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

275 वर्ष पुराना हस्तलिखित श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
चंडीगढ़. गुरुद्वारा साहिब सेक्टर 22 में आजकल श्रद्धालुओं को श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के दुर्लभ स्वरूपों के दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त हो रहा है। गुरुद्वारा श्री सिंह सभा माईथान, आगरा पातशाही नौवीं से 275 वर्ष पुरातन हस्तलिखित श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी यहां के श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ सुशोभित हैं। गुरुद्वारा श्री सिंह सभा माईथान, आगरा के हेड ग्रंथी ज्ञानी कश्मीर सिंह ने बताया कि इस स्वरूप को उस समय के उदासीन संप्रदाय के सेवकों ने शहीद बाबा दीप सिंह जी व भाई मनी सिंह जी के हस्तलिखित श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की हस्तलिखित प्रतिलिपि को 1730 से 1735 तक 5 साल में तैयार किया। इस स्वरूप में जपुजी साहिब की पहली 5 पौड़ियां सोने, नीलम, लाल, माणक, लाजवर व कीकर की विशेष स्याही तैयार करके सुंदर चित्रकारी द्वारा लिखी गई हैं। इस पवित्र स्वरूप के 1546 अंग हैं। इस के हर एक अंग को लाल माणक के सुंदर हाशिए से सजाया गया है। इसके साथ-साथ यहां 224 वर्ष पुरातन पत्थर छाप स्वरूप भी दर्शनार्थ सुशोभित है। इस स्वरूप को लाहौर के दो भाईयों हाजी चिराग दीन व हाजी सुराज दीन ने पत्थरों की डाइयां तैयार कर फिर सुंदर कागज पर छाप कर तैयार किया। इसी कारण इसे पत्थर छाप स्वरूप कहा जाता है। गुरुद्वारा श्री सिंह सभा माईथान, आगरा पातशाही नौवीं का सफेद तांबे और चांदी पर सोने की परत चढ़ा दो सौ पचास रुपये का सिक्का भी यहां सुशोभित है। श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के दुर्लभ स्वरूप सेक्टर 22 गुरुद्वारा साहिब में 16 जुलाई सुबह साढ़े आठ बजे तक हैं। उसके बाद सेक्टर 37 के श्री गुरुद्वारा साहिब में 18 जुलाई तक श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ सुशोभित रहेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

और पढ़ें