• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • जिले में दो साल से अधिक समय से जमे कई अफसरों का होगा तबादला

जिले में दो साल से अधिक समय से जमे कई अफसरों का होगा तबादला

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दो साल से कम अवधि के अफसरों के नहीं होंगे तबादले
राज्य सरकार की स्थानांतरण नीति जारी होने के बाद जिले में दो वर्षों से अधिक समय से जमे 10 से अधिक अफसरों के तबादले की गुंजाइश बन गई है। राजधानी में लिस्ट बनने की सुगबुगाहट के साथ ही अधिकारी बचाव के लिए सक्रिय हो गए हैं। इधर सामान्य प्रशासन विभाग से जारी गाइडलाइन में पति प|ी को एक ही जगह पर रहने का अधिकार नहीं है, लेकिन ऐसे आवेदनों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार जरूर किया जा सकता है। गाइडलाइन में शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में संतुलन के आधार पर ही तबादले करने की बात कही जा रही है।

जिले में ऐसे कई अधिकारी हैं जिन्हें एक ही जगह पर दो साल से अधिक हो चुके हैं। उन्हें हर साल जारी होने वाली शासन की तबादला नीति से कोई फर्क नहीं पड़ता। भले ही किसी का तबादला हो जाए, लेकिन उन्हें कोई नहीं डिगा सकता। तबादले पर प्रतिबंध हटते ही अधिकारी व कर्मचारियों की नजरें राज्य शासन से जारी हाेने वाली लिस्ट पर टिक गई है। अधिकारी वर्ग इसकी टोह लेने राजधानी में अपने संपर्कों का इस्तेमाल भी कर रहे हैं। गाइडलाइन में यह कहा गया है कि एक ही जगह पर दो साल से कम समय तक रहने वालों के तबादले नहीं किए जाएं। यदि शिकायत को आधार बनाकर तबादले हो रहे हों तो प्रारंभिक जांच में शिकायत सही होना जरूरी है।

जिले के इन अफसरों पर लटकी तबादले की तलवार
यह होगा तबादले का प्रतिशत
प्रथम और द्वितीय श्रेणी के अधिकारियों के मामलों में उनके संवर्ग में कार्यरत अधिकारियों की कुल संख्या के अधिकतम 15 फीसदी, तृतीय श्रेणी के कर्मचारियों के मामलों में 10 फीसदी और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के मामलों में अधिकतम 5 फीसदी तबादले किए जा सकेंगे। इससे अधिक संख्या में तबादले नहीं किए जाएंगे ताकि संतुलन बना रहे।

इन अधिकारियों पर लटकी तबादले की तलवार
विभाग नाम समय

वन विभाग, एचबी खान 30

स्कूल शिक्षा विभाग बीएल कोका 8

स्कूल शिक्षा विभाग मनोज रॉय 4

जनसंपर्क विभाग केपी साय 5

मत्स्य विभाग एके माहेश्वर 4

पीडब्ल्यूडी मधेश्वर प्रसाद 3

पीडब्ल्यूडी संजय सूर्यवंशी 3

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी यूके राठिया

सहायक पंजीयक फर्म एवं सोसायटी अजय चौबे 10

जेल एसएस तिग्गा 3

तबादला नीति घोषित होते साथ अफसरों की रायपुर दौड़ शुरू
जिले में ऐसे कई अधिकारी हैं जिन्हें एक ही स्थान पर दो साल से अधिक समय हो चुका है। इनमें कई तो 4-5 साल से भी अधिक समय से अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर डटे हुए हैं।

डीडी सिंह, सचिव, सामान्य प्रशासन विभाग

सीधी बात
एक ही स्थान पर दो साल से अधिक समय से पदस्थ अफसरों का तबादला क्यों नहीं होता‌?

- गाइडलाइन में साफ लिखा है कि दो साल से कम समय तक एक ही स्थान पर पदस्थ अधिकारी का यथासंभव तबादला नहीं किया जाए।

- हम बात दो साल से अधिक समय वालों की कर रहे हैं‌

आप किनकी बात कर रहे हैं?

- उन सभी अधिकारियों की जिन्हें दो साल से अधिक का समय हो चुका है।

- गाइडलाइन में दो साल से अधिक समय वालों के तबादले की बात है, लेकिन उन सभी का तबादला कर दिया जाए यह शासन का उद्देश्य नहीं है।

खबरें और भी हैं...