आक्रोश, कैंडल मार्च निकला

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मस्तूरी


कांकेर के नरहरपुर ब्लाक में नाबालिक आदिवासी छात्राओं के साथ हुए अनाचार के विरोध में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर मंगलवार को ब्लाक कांग्रेस कमेटी द्वारा बस स्टैंड में मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह का पुतला जलाया। ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष कौशल पांडेय ने राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग की। कार्यक्रम को जिपं सदस्य रामेश्वर भार्गव, जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष दिलीप लहरिया, कोषाध्यक्ष डा. अफजल शेख ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर ठा. रमेश सिंह, पूर्व जनपद अध्यक्ष शंकर यादव, व्यास नारायण तिवारी, ठा. तामेश, रघुराज सिंह पांडेय, राजकुमार अंचल, उत्तम दुबे, हेमचंद भार्गव, रहसलाल मधुकर, शिवकुमार सुमन, धमेंद्र सोनवानी, उमाशंकर, अमित कुर्रे, प्रेमसागर मरकाम, प्रशांत सोनी, शेखर भार्गव, संजय, गोपाल टंडन, बालाराम मनहर, मजपाल चंद्रसेन उपस्थित थे।


लापरवाही उजागर
बिल्हा। कांकेर के नरहपुर ब्लाक के छात्रावास की 11 छात्राओं से चौकीदार व शिक्षाकर्मी द्वारा दुष्कर्म का मामला राज्य सरकार की लापरवाही का परिणाम है। यह आरोप लगाते हुए बिल्हा विधानसभा के युकां अध्यक्ष ओमू दिवान ने कहा इससे लोगों में सरकार के प्रति रोष है। राजेंद्र तिवारी व चंद्रशेखर ने दोषी लोगों को कड़ी सजा देने की मांग की। वरिष्ठ कांग्रेसी जोगेंदर सिंह सलूजा ने इसे शर्मनाक बताते हुए प्रदेश सरकार से इस्तीफे की मांग की। इसके विरोध में यूथ कांगे्रस ने कैंडल मार्च निकाला। इस अवसर पर विनोद साहू, राहुल राज, चंद्रशेखर, हीरा सोनी, रमाशंकर दुबे, अनिल, पवन, लाला, मोहन अग्रवाल, दीपक पुष्पराज उपस्थित थे।

लोरमी में निकाली रैली

लोरमी। दिल्ली, फिर कांकेर की घटना ने मानवता को कलंकित किया है। बालिकाओं व महिलाओं की सुरक्षा को लेकर जनमानस में रोष है। यह बात जिपं सदस्य मायारानी सिंह ने कांकेर कांड के विरोध में हुई रैली में कही। उन्होंने कहा प्रदेश को शर्मसार करने वाली ऐसी घटनाओं से ही अराजकता पांव पसार रही है। उन्होंने राज्य शासन से छग में संचालित कन्या छात्रावासों की कार्यप्रणाली व गतिविधियों की विशेष कमेटी बनाकर जांच की मांग की। साथ ही पीडि़त बालिकाओं को दस-दस लाख रुपए मुआवजा राशि देने की मांग की। समाजसेवी राकेश तिवारी, महंत सेना प्रमुख साजिद खान, जिला इंटक उपाध्यक्ष भागवत साहू, इंटक नगर अध्यक्ष जितेंद्र पाठक ने संबोधन दिया। रैली में युकां विधानसभा अध्यक्ष ठा. राहुल सिंह, पिंटू कश्यप, बलभद्र कश्यप, दीना कश्यप, मोती कश्यप, सनत कश्यप, भक्कड़ कश्यप, सुनील मिश्रा, मनोज जायसवाल, सत्यम यादव, उदय वेल्डिंग, खुशवंत कश्यप, बसंत कश्यप, दारा सिंह, लाला जायसवाल, गोलूगिरी गोस्वामी, नितिन सलूजा, गोल्डी यादव, अजय सिंह उपस्थित रहे।


आपिप ने निकाली रैली: लोरमी में अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद ने कांकेर की घटना के विरोध में सद्भावना रैली व कैंडल मार्च निकाला। साथ ही प्रदेश के कन्या छात्रावास व आश्रम में पुरुष कर्मी को हटाकर महिलाओं की नियुक्ति करने की मांग की, ताकि ऐसी घटना की पुनरावृत्ति न हो।


उल्लेखनीय है अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद द्वारा जुलाई 11 में अनुसूचित जनजाति आयोग अध्यक्ष देवलाल डुग्गा व सहा. आयुक्त को ज्ञापन सौंपकर प्रदेश के सभी आदिवासी छात्रावास व आश्रम में पूर्ण रुप से महिला कर्मचारी की मांग की जा चुकी है। इस पर आज तक पहल नहीं हुई। इस अवसर पर अभाविप तहसील अध्यक्ष रामकृष्ण धुर्वे, केशव ध्रुव, ज्ञानी ध्रुव, अकत ध्रुव, दिनेश ध्रुव, शैलेंद्र ध्रुव, सुखनंदन ध्रुव, मिथलेश ध्रुर्वे, देवी पैकरा, बुद्धेश्वर ध्रुव, देवचरण, संतोष राज, सुनीता ध्रुव, अनीता ध्रुव, रामकली मरकाम, निशा नेताम, मनीषा जगत, संतोषी ध्रुव, चंद्रमती ध्रुव, दिलीप ध्रुव, संजय मार्को, प्रहलाद उपस्थित थे।