• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bhilai
  • कर्मचारियों के अस्पताल बनाने के लिए मिला 95 करोड़ रुपए

कर्मचारियों के अस्पताल बनाने के लिए मिला 95 करोड़ रुपए

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहर में ईएसआईसी का अस्पताल बनने जा रहा है। इसके लिए केंद्र ने 95 करोड़ रुपए जारी कर दिया है। निर्माण एजेंसी भी तय हो गया है। इसके अलावा राजधानी रायपुर व भिलाई में भी निर्माण के लिए बजट जारी कर दिया गया है।

माना जा रहा है कि तीनों शहर में यह अस्पताल एक साथ आकार लेगा। जिले के पंजीकृत 43 हजार कर्मचारी व उनके परिवार को इलाज की एक बड़ी सुविधा मिल जाएगी। कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है कि राज्य कर्मचारी बीमा निगम ने शहर में स्पेशियलिटी हाॅस्पिटल बनाने के लिए 95 करोड़ रुपए जारी कर दिया है। इस बार निर्माण करने के लिए एजेंसी भी तय हो गया है। हालांकि पांच साल पहले भी 100 करोड़ रुपए से अस्पताल निर्माण शुरू किया जा रहा था।



लेकिन तब न तो जमीन मिली थी और न ही उत्सुकता ही देखी गई थी। केंद्र ने राजधानी रायपुर समेत भिलाई में भी निर्माण की स्वीकृति दी है। इन सभी अस्पताल के लिए निगम ने राशि जारी कर दी है। तीनों अस्पताल एक साथ आकार लेगा। इस वजह से राज्य सरकार की रुचि भी इसमें दिखने लगी है। रायपुर के निर्माण के लिए टेंडर की प्रक्रिया चल रही है। अन्य दाेनों स्थानों के लिए एजेंसी तय कर अन्य औपचारिकताएं भी पूरी किए जाने की जानकारी विभागीय सूत्रों ने दी है।





बाक्स

अस्पताल में होगी यह सुविधा

0 50 से ज्यादा विशेषज्ञ डाक्टर

0 300 से ज्यादा प्रशिक्षित तकनीशियन व कर्मचारी

0 लेटेस्ट टेक्नालाजी का आपरेशन थियेटर

0 100 बेड की सुविधा

0 आवश्यकतानुसार एंबुलेंस

0 सभी जटिल बिमारियो के उपचार की सुविधा

बाक्स

ईएसआईसी एक नजर में

स्थापना 1 अक्टूबर 1948

पहली डिस्पेंसरी कानपुर उत्तर प्रदेश

वर्तमान में कुल अस्पताल 151

डिस्पेंसरी 1384

आईएसएम यूनिट 127

कुल पंजीकृत मरीज 7.21 करोड़

बीमित व्यक्ति 1.86 करेाड़

कुल केंद्र 787

बाक्स

ईएसआई योजना के मुख्य लाभ

0 चिकित्सा हितलाभ , बीमारी हितलाभ , मातृत्व हितलाभ , अपंगता हितलाभ , अंत्येष्टि व्यय , आश्रित हितलाभ , पुनर्वास भत्ता , व्यवसायिक पुनर्वास , वृद्वावस्था चिकित्सा देखभाल , प्रसव व्यय , बेरोजगारी भत्ता राजीव गांधी श्रमिक कल्याण योजना से

बाक्स

शहर में स्वीकृत इस अस्पताल की विशेषता

0 इमरजेंसी व आपातकालीन- एक फ्रैक्चर व प्लास्टर रूम,पोर्टेबल एक्सरे,अल्ट्रासाउुड व ईसीजी

0 रेडियोलाजी- एक्सरे रूम,अल्ट्रासाउंड रूम,मैमोग्राफी रूम,पंजीकरण काउंटर,रिकार्ड रूम व कर्मचारियो के लिए लाउंज

0 ओपीडी सर्विस- मेडिकल,सर्जिकल,आर्थोपेडिक,हृदय विज्ञान,स्त्री व प्रसुति,नेत्र,ईएनटी,बाल रोग,चर्म रोग,मनोविज्ञान

0 अंत:रोगी वार्ड- इसमें कई बिस्तर की उपलब्धता,चिकित्सा व नर्स कक्ष के अलावा पेंट्री की व्यवस्था

0 आईसीयू वार्ड- चिकित्सा कक्ष,नर्स रूम के अलावा रिश्तेदारो व स्टाफ के लिए चेंजिंग व लाइनेन रूम

0 लेबोरेटरी- स्टेट आफ द आर्ट लैबोरेटरी जिसमें सभी जांच व परीक्षण की सुविधा

0 अन्य सुविधाए- केंद्रीकृत वातानुकुलित परिसर, 24 घंटे बिजली की उपलब्धता

वर्सन

निर्माण शीघ्र होगा
ईएसआईसी अस्पताल का निर्माण कार्य शीघ्र शूरू होगा। इसके लिए 95 करेाड़ रूपए जारी कर दिया गया है। कोरबा के साथ ही रायपुर व भिलाई में भी अस्पताल का निर्माण किया जाएगा। निर्माण एजेंसी भी तय कर दिया गया है। इससे उम्मीद की जा रही है कि निर्धारित समय के भीतर एजेंसी के द्वारा निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। डॉ.पीके सिन्हा, डिप्टी डायरेक्टर ईएसआईसी

खबरें और भी हैं...