पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • मनरेगा कर्मियों की कलमबंद हड़ताल

मनरेगा कर्मियों की कलमबंद हड़ताल

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अंबिकापुर| नियमितीकरणसहित अपनी छह सूत्रीय मांगों को लेकर मनरेगा के अधिकारी-कर्मचारी शुक्रवार को कलमबंद हड़ताल पर रहे। कर्मचारियों का कहना है कि योजना के तहत लंबे समय से काम कर रहे कर्मचारियों के हितों की उपेक्षा हो रही है। मजबूर होकर कर्मचारियों को विरोध में उतरना पड़ा हैं। मांगे पूरी नहीं होने पर 9 मार्च से अनिश्चितकालीन हड़ताल की चेतावनी दी गई है। कर्मचारियों के हड़ताल से कार्यालयों में योजना का कामकाज प्रभावित रहा।

अंबिकापुर सहित जिले के सातों ब्लाकों के करीब चार सौ कर्मचारी हड़ताल पर रहे। कर्मचारियों ने यहां अधिकारियों से मुलाकात कर अपनी मांगांे के संबंध में ज्ञापन सौंपा। कर्मचारियों का कहना है कि उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। ज्ञापन में मनरेगा कर्मचारियों को छह प्रतिशत राशि की व्यवस्था खत्म कर वेतन मद का प्रावधान करने, स्थायी कर्मचारियों की तरह स्वास्थ्य बीमा, दुर्घटना बीमा, अनुकंपा नियुक्ति, ईपीएफ की सुविधा प्रदान करने तथा समकक्ष पदों पर समायोजन की मांग की गई है। कर्मचारियों का कहना है कि योजना के तहत करीब एक साल से निर्माण कार्य बंद होने से कर्मचारियों को पांच-छह महीने से वेतन नहीं मिल रहा है।

विरोध