• Hindi News
  • National
  • बच्चों की संख्या के अनुसार होगी शिक्षकों की पदस्थापना

बच्चों की संख्या के अनुसार होगी शिक्षकों की पदस्थापना

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शास. स्कूलों में बच्चों की संख्या के अनुसार शिक्षकों की तैनाती के लिए सेटअप में बदलाव किया जाएगा। शिक्षा विभाग ने पहले चरण में शहरी क्षेत्र के स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों व पढ़ने वाले बच्चों की जानकारी राज्य शासन को सौंप दी है।

राज्य शासन ने भी शासकीय स्कूलों के सेटअप में बदलाव का निर्णय लिया है। इससे पहले 2008-09 में सेटअप बदला गया था। अब 9 साल बाद ज्यादातर स्कूलों की स्थिति बदल गई है। किसी स्कूल में बच्चों की दर्ज संख्या के अनुसार में शिक्षक कम हैं तो कहीं शिक्षक ज्यादा हैं। इसे दूर करने के लिए ही राज्य शासन नया सेटअप तैयार कर रहा है। वर्तमान में शहरी क्षेत्र के स्कूलों की रिपोर्ट तैयार कर शासन को भेज दी गई है। रिपोर्ट के आधार पर शासन स्तर पर शिक्षकों की पदस्थापना की जाएगी। शहरी स्कूलों की रिपोर्ट भेजने के बाद विभाग के अधिकारी ग्रामीण क्षेत्र में संचालित होने वाले स्कूलों की जानकारी एकात्रित करने में जुट गए हैं। इसके बाद ग्रामीण स्कूलों की जानकारी राज्य शासन को भेज दी जाएगी।

वर्तमान में प्राइमरी व मिडिल स्कूलों के लिए 3 और 5 का स्टाफ सेटअप है। शिक्षा के अधिकार के तहत 30 बच्चों पर एक शिक्षक होना जरूरी है। लेकिन इसका पालन भी नहीं हो रहा है। नए सेटअप में इसे बदलकर बच्चों की संख्या को आधार मानते हुए 25 से 30 बच्चों पर एक शिक्षक नियुक्त होगा।

खबरें और भी हैं...