पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • बच्चों के साथ कलेक्टर ने भी खाई फाइलेरिया रोधी दवा

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बच्चों के साथ कलेक्टर ने भी खाई फाइलेरिया रोधी दवा

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राष्ट्रीय फाइलेरिया दिवस के तहत बुधवार को कलेक्टर डॉ. सीआर प्रसन्ना ने स्वयं स्कूली बच्चों के साथ फाइलेरिया रोधी दवा खाकर 3 दिवसीय कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस दौरान मौजूद डॉक्टरों ने फाइलेरिया के लक्षण, रोग होने के कारण, मच्छरों की रोकथाम और फाइलेरिया से बचाव के बारे में उपस्थित मरीजों और स्कूली बच्चों को जानकारी दी।

कलेक्टर डॉ. प्रसन्ना ने उपस्थिति लोगों को फाइलेरिया रोधी दवा का सेवन करने के लिए प्रेरित किया। जिला अस्पताल के सर्जन डॉ. बीके साहू ने कहा कि ठंड के साथ तेज बुखार आना, हाथ पैर की नसों का फूलना, दर्द होना और जांघ में गिल्टियों का उभर आना, हाथ-पैर, अंडकोष, स्तन तथा गुप्तांग आदि में सूजन आना और पेशाब में सफेदी आना फाइलेरिया होने के लक्षण हैं। फाइलेरिया फैलाने वाले मच्छर घरों के आसपास नालियों, गड्ढों एवं घरों के अंदर रुके गंदे पानी में पनपते हैं, इसलिए घर के आसपास गंदा पानी एकत्रित न होने दें।

फाइलेरिया के ये

हैं लक्षण
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार फाइलेरिया होने के बाद सूजन की बीमारी अलग-अलग अंतराल पर होती है। यह ध्यान रखना भी महत्वपूर्ण है। लोगों में ये बीमारी पूरी जिंदगी सामने नहीं आती। पर ये लोग मच्छरों तक संक्रमण पहुंचा सकते हैं। इन्हें लक्षणहीन वाहक कहते हैं। गंभीर छूत की स्थिति में, जब वयस्क परजीवी लसिका तंत्र में घुस जाते हैं, तब गिल्टियां और बुखार हो जाता है। कुछ रोगियों में गिल्टियों और बुखार के अलावा एक या ज़्यादा हाथ व पैरों में सूजन हो सकती है।

एलबेंडाजोल की खुराक का करें सेवन: डॉ. डीएस देव
जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. डीएस देव ने कहा कि सभी लोगों को डीईसी और एलबेंडाजोल की खुराक लेनी चाहिए है। जिले में 8 लाख 92 हजार लोगों को दवा खिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 3 दिनों तक दवा खिलाने के लिए 184 टीमों के साथ 4 सेक्टर सुपरवाइजर तैनात किए गए हैं। इनमें डॉ. आशा त्रिपाठी, डॉ. कौशिक व डॉ. बिसेन भी शामिल हैं।

जांच में मिले 7 नए मरीज
मलेरिया सलाहकार डॉ. अस्मिता पटनायक ने बताया कि इस वर्ष 7 नए मरीज पॉजिटिव मिले हैं। उन्हें सावधानियां बरतने के लिए कहा गया है। बताया जाता है कि जिले के धमतरी, कुरुद, नगरी और मगरलोड ब्लाक में 4 हजार स्लाइड तैयार की गई थी। सबसे संवेदनशील क्षेत्र नगरी ब्लाक को माना गया है।

धमतरी। कार्यक्रम में फाईलेरिया की दवा लेकर अभियान की शुरूवात करते

पहल
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

    और पढ़ें