पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • बैरिकेड्स टूटे, सड़क पर फिर दौड़ने लगे भारी वाहन

बैरिकेड्स टूटे, सड़क पर फिर दौड़ने लगे भारी वाहन

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कांकेर|गिल्ली चौक में शीतलापारा रोड पर भारी वाहनों की आवाजाही रोकने के लिए बैरिकेड्स बनाए गए थे, जो टूट गए हैं। इसके बाद वाहनों की रफ्तार फिर से बेकाबू हो गई है। भारी वाहन बेरोकटोक चलने लगे हैं, जिससे हादसों का अंदेशा बढ़ गया है।

गिल्ली चौक से शीतलापारा जाने वाले रास्ते पर बैरिकेड्स एक महीने से उखड़े हुए हैं। यहां दोबारा बैरिकेड्स लगाए जाने पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। सकरे रास्ते पर भारी वाहनों के आवागमन के कारण हमेशा खतरा बना रहता है। कई बार तो सड़क पर जाम की स्थिति बन जाती है। इस दौरान कई बार वाहन चालकों में विवाद भी होता है। इस रोड पर बैरिकेड्स का एक ही पोल रह गया है। बाकी बैरिकेड्स सड़क किनारे पड़े हुए हैं। डेढ़ साल पहले गिल्ली चौक रोड पर नगर पालिका ने बैरिकेड्स लगवाए थे। इससे ट्रक, मेटाडोर, बस सहित अन्य बड़े वाहनों के आवागमन पर रोक लगाई जा सकी थी। यह सड़क देवरी, पीढ़ापाल और कोरर जाने का शार्टकट है। इसके कारण भारी वाहन समय बचाने के लिए इस रोड का इस्तेमाल

करते हैं। नासिर गोरी, गुड्डू सिन्हा, नरेंद्र साहू ने बताया कि गिल्ली चौक रोड पर भारी वाहनों का प्रवेश रोकने फिर से बैरिकेड्स लगाए जाने पर ध्यान दिया जाना चाहिए। बैरिकेड्स नहीं होने से आवागमन बढ़ रहा है, जिससे हमेशा खतरा बना रहता है।

गिल्ली चौक पर जल्द लगाए जाएंगे बैरिकेड्स
गिल्ली चौक रोड पर भारी वाहनों का प्रवेश रोकने बैरिकेड्स लगाए गए थे। बैरिकेड्स उखड़ गए हैं, जिन्हें शीघ्र ही फिर से लगवाया जाएगा। गोविंदा देवांगन, सब इंजीनियर, नगर पालिका कांकेर

पालिका को दी जाएगी सूचना
गिल्ली चौक में बैरिकेड्स उखड़ गए हैं। इन्हें नगर पालिका ने लगाया था। पालिका को मौखिक रूप से सूचित किया गया है। अब लिखित में सूचित कर बैरिकेड्स लगवाए जाने के लिए पहल की जाएगी। भारी वाहनों के प्रवेश पर रोक लगाई जाएगी। केजूराम रावत, यातायात प्रभारी, कांकेर

कांकेर। बेरिकेड्स टूटने से भारी वाहनों पर नहीं लग रही लगाम।

हादसे का अंदेशा
खबरें और भी हैं...