पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • केबलवार मामले में गिरफ्तार दो आरोपी जेल दाखिल, जांच जारी

केबलवार मामले में गिरफ्तार दो आरोपी जेल दाखिल, जांच जारी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोरबा | एकदिन पहले शहर में केबलवार को लेकर दो गुटों के मध्य हुए विवाद में जानलेवा हमले के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हंे जेल दाखिल कर दिया गया। दूसरे आरोपियों के धरपकड़ की कार्रवाई जारी है। पुिलस मामले की जांच में जुटी है।

केबलवार को लेकर मंगलवार को शहर में दो गुटों के बीच जमकर विवाद हुआ था। पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए पहले िस्थति को नियंित्रत किया फिर दोनों पक्षों के खिलाफ अपराध भी पंजीबद्ध किया है। पहले एक गुट के तीन लोगों पर जानलेवा हमला हुआ था। शारदा विहार अटल आवास के समीप केबल नेटवर्क से जुड़े रणधीर पांडेय,महेंद्र पटेल दीपक कुमार पर पहले कुछ लोग जानलेवा हमला फरार हो गए थे। इनके अनुसार सिटी छत्तीसगढ़ मल्टीमिडिया प्राइवेट लिमिटेड के गुर्गों ने घटना को अंजाम िदया था। वहीं इस घटना के बाद दूसरे केबल नेटवर्क के गुट से जुड़े समर्थित लोगों ने संबंधित केबल नेटवर्क के दफ्तर में पहुंच जमकर तोड़फोड़ किया था। बलवा जानलेवा हमले के मामले में महेन्द्र कुमार की रिपोर्ट पर गंगापुरी गोस्वामी,विजेन्द्र सक्सेना, विजय सोनी, विनयदास, आरिफ (युसुफ) अन्य के खिलाफ बलवा जानलेवा हमले का अपराध पंजीबद्ध िकया था। वहीं सिटी मल्टीमिडिया के दफ्तर में हुई तोड़फोड़ मामले में भी पुलिस ने 24 लोगों पर नामजद अन्य के खिलाफ अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। पुलिस के अनुसार पहले मामले में गुरुवार काे दो आरोपी विजय सोनी आरिफ (युसुफ) को गिरफ्तार किया गया है। पुिलस ने बताया कि दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किए जाने के बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया। जिसके बाद उन्हें जेल दाखिल कर दिया गया है। पुलिस के अनुसार केबलवार से जुड़े इस मामले की गंभीरता से जांच हो रही है और गिरफ्तारी की कार्रवाई भी जारी है। शहर मंेे केबल नेटवर्क से प्रसारण को लेकर विवाद पहले भी हो चुका है। शहर में एक नया केबल नेटवर्क के शुरू होने इंनपुटरों के जोड़तोड़ के प्रयास के साथ ही अलग-अलग गुटों के बीच फिर से केबलवार छिड़ गया है। केबल नेटवर्क के संचालन से जुड़े लोग ज्यादा से ज्यादा इंनपुटरों को अपने साथ जोड़कर अिधक से अिधक क्षेत्र में केबल नेटवर्क का प्रसारण करने के प्रयास में जुटे हैं, ताकि उनको ज्यादा से ज्यादा मुनाफा हो सके इस व्यवसायिक प्रतिस्पर्धा में एक दूसरे के केबल लाइन की