पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • जरूरत पर ही खुलता है ग्राम पंचायत का ताला

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जरूरत पर ही खुलता है ग्राम पंचायत का ताला

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्रामीणों की शिकायत सुनने राज्य शासन द्वारा पंचायतों में शुरू की गई जनसुनवाई ग्रामीण क्षेत्रों में फ्लॉप साबित हो रही है। ग्राम पंचायतों के प्रतिनिधि सिर्फ जरूरत पड़ने पर ही दफ्तर का ताला खोलते हैं। लोगों की समस्याएं सुनने के लिए मंगलवार का दिन निर्धारित है जिस दिन अधिकारी-कर्मचारियों को मुख्यालय में बैठना जरूरी है। लेकिन इसका पालन सिर्फ जिले में ही हो रहा है। जामली पंचायत में सोमवार को यहां दिनभर ताला बंद था। ग्राम पंचायतों में आवेदन लेना तो दूर सरपंच, सचिव बैठते ही नहीं। जामली, मचेवा, बराेंडा बाजार ग्राम पंचायत की पड़ताल में सामने आया कि सरपंच, सचिव कब आते जाते हैं लोगों को पता ही नही है। 543 ग्राम पंचायतों में 80 प्रतिशत पंचायतों में रोज ताला लगा रहता है। इस बात को स्वीकारते अधिकारियों का कहना है कि सबकी मॉनिटरिंग करना मुमकिन नहीं। लोगों की समस्याएं गांव में ही हल हों इसके लिए इसके लिए पंचायत सचिवों को सख्त हिदायत दी गई है।

समस्या होने पर सरपंच के घर जाते हैं : जामली के ग्रामीणों ने कहा कि पंचायत का कार्यालय महीने में कभी कभार ही खुलता है। पंचायत में हमेशा ताला लगा रहता है। छोटी-मोटी समस्याओं का सुलह करने के लिए सरपंच के घर जाना पड़ता है।

ग्राम पंचायत में लटका रहता है ताला

आदेश का पालन नहीं करने पर होगी कार्रवाई
गांव स्तर पर लोगों की समस्याएं सुनने के लिए पंचायत सचिवों को निर्देशित किया गया है। अगर इस तरह की लापरवाही की जा रही है तो कार्रवाई की जाएगी। पुष्पेंद्र मीणा, सीईओ जिला पंचायत, महासमुंद

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

    और पढ़ें