• Hindi News
  • National
  • शिक्षक ने बच्चे को पीटा, अब विभागीय जांच

शिक्षक ने बच्चे को पीटा, अब विभागीय जांच

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर| डूंडा स्थित एक प्राइवेट स्कूल के शिक्षक से बच्चे की पिटाई के मामले में तूल पकड़ा है। पुलिस में एफआईआर के बाद अब मामले में जिला शिक्षा विभाग ने जांच बैठा दी है। इसका जिम्मा रविग्राम शासकीय स्कूल के प्राचार्य को दिया गया है। शिक्षा विभाग के अफसरों ने कहा कि दो-तीन दिन में जांच रिपोर्ट आएगी, इसके आधार पर कार्रवाई होगी। शनिवार को छात्र की पिटाई के मामले में पिता ने शिक्षा विभाग में शिकायत की थी।



इसमें कहा गया था कि बच्चे पर झूठा आरोप लगाकर उसे प्री-बोर्ड में शामिल होने से भी रोका जा रहा है। मामले में कार्रवाई करते हुए शिक्षा विभाग ने स्कूल प्रबंधन से कहा है कि वे प्री-बोर्ड या फिर स्कूल आने-जाने को लेकर बच्चे पर किसी तरह की रोक न लगाए। इसके अलावा मामले की जांच भी बैठाई गई है।





अफसरों का कहना है कि जांच में यह बात साफ हो जाएगी कि गलती किसकी थी। क्या बच्चे ने परीक्षा में नकल की? ऐसा करने पर स्कूल ने क्या किया? या फिर शिक्षक ने जानबूझकर बच्चे को परेशान किया? इस रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी। गौरतलब है कि बच्चा संस्कार शर्मा व पिता शैलेष शर्मा ने एक शिक्षक पर आरोप लगाया कि उसने नकल का आरोप लगाकर पहले बच्चे को पीटा, फिर प्री-बोर्ड देने पर रोक लगाने की धमकी दी। उधर, स्कूल प्रबंधन का कहना है कि गलती बच्चे की है। इसी मामले की जांच शिक्षा विभाग की टीम जांच करेगी। संस्कार शर्मा पिता शैलेष शर्मा दसवीं का छात्र है। स्कूल में इन दिनों दसवीं प्री-बोर्ड की परीक्षाएं चल रही है।

खबरें और भी हैं...