पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • 450 करोड़ के सेल्स टैक्स घोटाले में 7 व्यापारी गिरफ्तार

450 करोड़ के सेल्स टैक्स घोटाले में 7 व्यापारी गिरफ्तार

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर | राजधानी में तीन साल पहले फूटे 450 करोड़ रुपए के सेल्स टैक्स घोटाले में ढाई साल बाद पुलिस ने शुक्रवार को राजधानी के 7 कारोबारियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक सभी पर बोगस कंपनियों के साथ ट्रांजेक्शन करके टैक्स बचाने का मामला सामने आया है। इन कारोबारियों ने जिन कंपनियों के साथ लेन-देन के कागज पेश किए, वह कंपनियां ही नहीं मिलीं। गिरफ्तार कारोबारी अरविंद उर्फ मनोज सिंह कापा लोधीपारा, प्रशांत शर्मा बढ़ईपारा, सूर्यप्रकाश साहू गंजपारा, रमेश भारत गोगांव, नोहर साहू गुढियारी, राजेश अग्रवाल गुढियारी, मनोज अग्रवाल समता कॉलोनी हैं।







इस घोटाले की जांच ढाई साल पहले शुरू हुई थी। बीच-बीच में जांच अटकने की वजह से कार्रवाई अब शुरू हुई है। एएसपी सिटी विजय अग्रवाल ने घोटाले में अभी जिन कारोबारियों को गिरफ्तार किया गया है, वह 9 अलग-अलग मामलों में आरोपी हैं। सेल्स टैक्स फर्जीवाड़े के देवेंद्र नगर और सिविल लाइन में 22 मामले दर्ज हैं, जिनमें से शुरुआत में 7 व्यापारियों को गिरफ्तार किया गया है। बाकी 13 मामलों की जांच चल रही है। उसमें भी एक दर्जन से ज्यादा कारोबारियों के खिलाफ घोटाले में शामिल रहने के आरोप हैं। अभी गिरफ्तार किए गए सभी कारोबारी रायपुर के हैं। पुलिस ने इनके नाम अरविंद उर्फ मनोज सिंह कापा लोधीपारा, प्रशांत शर्मा बढ़ईपारा, सूर्यप्रकाश साहू गंजपारा, रमेश भारत गोगांव, नोहर साहू गुढियारी, राजेश अग्रवाल गुढियारी, मनोज अग्रवाल समता कॉलोनी बताए हैं।

ज्यादातर गे बिल बोगस

जिन केस में गिरफ्तारियां हुईं, उनकी जांच में भी कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। आरोपियों ने टैक्स बचाने के लिए बोगस बिल जमा किया था। कई कारोबारियों ने टैक्स ही जमा नहीं किया। जबकि उन्हें विभाग से कई बार नोटिस भी जारी किया गया था। इसके बाद भी आरोपी कारोबार करते रहे। जब एफआईआर हुआ तो आरोपी गायब हो गए। तब से आरोपियों की तलाश चल रही थी।

खबरें और भी हैं...