पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • आधी रात घर घुसकर केबल ऑपरेटर पर हमला, दरवाजा बंद कर भागा बदमाश

आधी रात घर घुसकर केबल ऑपरेटर पर हमला, दरवाजा बंद कर भागा बदमाश

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
टिकरापारा चौरसिया कॉलोनी में गुरुवार रात 2 बजे नकाबपोश ने घर घुसकर केबल ऑपरेटर पर जानलेवा हमला किया। ऑपरेटर ने चीख पुकार मचाई। हल्ला होने पर बाजू कमरे में सो रही प|ी जागी, लेकिन तब तक हमलावर फरार हो चुका था। भागते समय उसने घर का दरवाजा बंद कर दिया था। प|ी मदद के लिए पुकारते हुए दूसरे दरवाजे से बाहर गई। उसके बाद पड़ोसी जागे। तब तक हमलावर फरार हो गए। हमले की वजह को लेकर सस्पेंस बना हुआ है, हालांकि हमलावर जिस तरह चेहरा छिपा रखा था, उससे यह संकेत मिल रहे हैं कि वह ऑपरेटर या उसके परिवार का परिचित है। केबल ऑपरेटर के सिर पर गहरी चोट है। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस अफसरों ने बताया चौरसिया कॉलोनी में प्रदीप पांडे(40)का मकान है। वह 15 साल से केबल ऑपरेटर है। गुरुवार रात उसकी भतीजी घर आई थी। बच्चे और उनकी प|ी दूसरे कमरे में सो हुए थे। प्रदीप अपने कमरे में सोया हुआ था।

मेनगेट अंदर से बंद था। वे पीछे का दरवाजा बंद करना भूल गए। यह दरवाजा किचन की ओर से खुलता था। रात 2 बजे नकाबपोश पीछे के रास्ते से भीतर आया। प|ी और बच्चे जिस कमरे में सो रहे थे, उसने दबे पांव उस कक्ष को पार किया। उसके बाद प्रदीप के कमरे में घुस गया। उसने सो रहे प्रदीप के सिर पर लोहे के किसी धारदार हथियार से हमला किया। प्रदीप के सिर पर गहरी चोट जरूर आई, लेकिन वह संघर्ष करने की स्थिति में था। चोट लगते ही वह जाग गया और उसने अपना बचाव करने की कोशिश की। इस दौरान वह जोर-जोर से चिल्लाने भी लगा था। शोर होने से प|ी और बाकी लोग जाग गए। उसके बाद हमलावर उसे धक्का देकर भाग निकला। उसने हथियार वहीं छोड़ दिया। पुलिस को आशंका है कि हमलावर कोई परिचित है, जो घर पर आता जाता था।



उसे पता था कि पीछे का दरवाजा बंद नहीं रहता है और ऑपरेटर अंदर के कमरे में सोता है। तभी वह आसानी से चला गया। उसे भागते हुए भी किसी ने नहीं देखा है। पुलिस ने संदेह के आधार पर ऑपरेटर के यहां काम करने वाले कुछ कर्मचारी और घर में आने वाले परिचित युवकों को हिरासत में लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

पैसे का विवाद या कोई और मामला
अब तक हमले का कारण पता नहीं चल पाया है। प्रदीप को भी होश नहीं आया है। पुलिस को आशंका है कि हमले के पीछे पैसे का या कुछ घरेलू विवाद के कारण उस पर हमला हुआ है। पुलिस घर के बाकी रिश्तेदारों से भी पूछताछ कर रही है। उसके कारोबार के बारे में भी पता किया जा रहा है कि लेनदेन का कोई विवाद तो नहीं था।

प्रदीप पांडे

खबरें और भी हैं...