• Hindi News
  • National
  • प्रॉपर्टी डीलर किडनैप में एक गिरफ्तार, 6 मध्यप्रदेश भागे

प्रॉपर्टी डीलर किडनैप में एक गिरफ्तार, 6 मध्यप्रदेश भागे

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भिलाई के प्रॉपर्टी और शेयर डीलर सुमन सिन्हा का अपहरण करने वाले एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। घटना में शामिल 6 आरोपी राज्य छोड़कर भाग निकले हैं। खबर है कि वे मध्यप्रदेश में हैं। तलाश में क्राइम ब्रांच की एक टीम वहां जाएगी। अपहरण के पीछे प्रॉपर्टी विवाद का कारण बताया जा रहा है।

पुलिस ने बताया कि भिलाई के कोहका निवासी सुमन सिन्हा (30) का प्रॉपर्टी और शेयर ब्रोकर का काम है। उसने राजनांदगांव की जमीन बेचने के लिए विज्ञापन किया था। इसे पढ़कर मध्यप्रदेश के एक युवक ने उनसे संपर्क किया और रायपुर बुलाया। यहां उसकी मुलाकात स्टेशन रोड में रहने वाले आशु उर्फ गिरिश अरोरा से हुई। वह प्रॉपर्टी का काम करता है। वह सुमन को ग्रीन लाइट होटल में ले गया। उसके साथी भी वहां थे। सभी जमीन देखने के नाम पर कार से राजनांदगांव के लिए निकल गए। वे उसे गंडई के सूनसान इलाके में ले गए और घरवालों को फाेन कराया। उसके पिता को फोन पर धमकी दी कि उसके बेटे का अपहरण कर लिया गया है, अगर उसकी सलामती चाहिए तो 13 लाख की व्यवस्था कीजिए। फिरौती की मांग आने से उसके घर वाले हड़बड़ा गए। आनन-फानन में पैसे की व्यवस्था की। आरोपी सुमन को लेकर उसके घर गए। जहां उसके पिता से 7.5 लाख लिए और उसे वहीं छोड़ दिया गया। जाते-जाते धमकी दी गई कि पुलिस में शिकायत करने पर जान से मार देंगे।। पुलिस ने बताया कि सभी आरोपियों की पहचान हो गई।

सट्टे के झगड़े की चर्चा
प्रॉपर्टी डीलर के अपहरण के पीछे सट्टे के पैसे के विवाद की चर्चा है। आरोपियों को प्रॉपर्टी डीलर से 13 लाख रुपए लेना था। प्रॉपर्टी डीलर सट्टे में पैसा हार गया था। पैसे के विवाद को सुलझाने के लिए उसे रायपुर बुलाया गया था। यहां आरोपियों ने उसे घेरकर अपने कब्जे में लिया। चर्चा में यही कहा जा रहा है कि जब तक प्रापर्टी डीलर कब्जे में था, उन्होंने पुलिस को खबर नहीं दी। साढ़े सात लाख रुपए भी इसी वजह से दे दिए गए। आरोपियों ने जब उसे छोड़ा तब पुलिस को सूचना दी गई।

खबरें और भी हैं...