पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Officers Declared Malay As A C.M. For Three Day Of State

अफसरों की करामात, मलय को बना दिया तीन दिन का सीएम?

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर. छत्तीसगढ़ के अफसरों ने तखतपुर के मोछ गांव के मलय जहानी नाम के एक युवक को तीन दिन के लिए राज्य का मुख्यमंत्री बना दिया। बाकायदा इस आशय का उसे पत्र भी भेज दिया। यह मामला गुरुवार को विधानसभा में चर्चा के दौरान सामने आया।
पिछले साल ग्राम सुराज अभियान में अपने गांव पहुंचे अफसरों को मलय ने एक आवेदन दिया। उसने लिखा कि राज्य में बहुत अधिक अराजकता फैल गई है। इसलिए उसे डॉ. रमन सिंह के स्थान पर तीन दिन के लिए मुख्यमंत्री बना दिया जाए। अफसरों ने उसका आवेदन ले लिया। बाद में विकासखंड कार्यालय तखतपुर से उसके आवेदन का निराकरण करने की सूचना उसे भेज दी गई।
यह बात कांग्रेस विधायक धर्मजीत सिंह ने ग्राम सुराज अभियान पर बोलते हुए कही। उन्होंने चुटकी ली कि इस तरह हो रहा है लोगों के आवेदनों का निराकरण। इसी दौरान कांग्रेस के ही मोहम्मद अकबर ने भी कटाक्ष किया कि बिलासपुर में तो जितने आवेदन आए थे, उससे भी पांच अधिक आवेदनों का का निराकरण कर दिया गया।
दरअसल नेता प्रतिपक्ष रविंद्र चौबे ने प्रश्नकाल में जानना चाहा था कि ग्राम और नगर सुराज अभियान के दौरान जनता से मिले आवेदनों का निराकरण कैसे किया जा रहा है? निराकरण के लिए कौन सा सिस्टम अपनाया गया है? उनके साथ विपक्ष के विधायक सवालों की झड़ी लगाते रहे। कटाक्ष करते रहे। आरोप लगाते रहे। मंत्री ने जवाब भी दिया। पर विधायक संतुष्ट नहीं हुए। नारे लगाते हुए विपक्ष के सारे विधायकों ने वाकआउट कर दिया।
मंत्री व कलेक्टर करते हैं मानिटरिंग
मंत्री - वनमंत्री ने बताया कि ग्राम व नगर सुराज अभियान में मिली शिकायतों के निराकरण की मानिटरिंग मंत्री व कलेक्टर करते हैं। मानिटरिंग सेल का भी गठन किया गया है। दोनों अभियान में 41 हजार 524 शिकायतें मिली थीं जिनमें से 28 हजार 526 का निराकरण कर दिया गया है। बाकी प्रक्रियाधीन हैं। प्रकरण में लापरवाही बरतने वालों पर कार्रवाई हुई है।