पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Prisoner Escaped By Pretending To Blindness

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुलिस को नहीं लगने दी भनक, अंधेपन का नाटक करके कैदी हुआ फरार

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जगदलपुर। फरार होने से पहले रच रहा था साजिश, पागलपन से लेकर अंधेपन का कर रहा था नाटक, एक सप्ताह में दूसरी बार लाया गया था इलाज के लिए मेकाज। मेडिकल कालेज से फरार हुआ बंदी पहले ही भागने की योजना बना चुका था। अलग-अलग बीमारियों के बहाने बना कर वह भागने के लिए हास्पिटल में रास्तों की रैकी कर रहा था। बंदी ने अपनी योजना की भनक किसी को भी नहीं लगने दी और अपनी योजना के तहत ही वह मेकाज से फरार हो गया। हत्या के आरोप में जून 2010 से जेल में बंद महादेव को फरारी के 4 दिन पूर्व ही उसकी दिमागी हालत ठीक न होना पाते केंद्रीय जेल से उपचार के लिए मेकाज लाया गया था। वहीं शुक्रवार को उसने नजर कमजोर होने व कुछ भी न दिखने की शिकायत जेल प्रशासन से की। इसके बाद उसकी आंखों की जांच के लिए मेकाज लाया गया। कुछ प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बंदी को जब मेकाज लाया गया तो उसने कुछ भी न दिखाई देने की बात प्रहरी से कही। इसके बाद जब प्रहरी आंखों की जांच के लिए पर्ची बनवाने गया इसी बीच महादेव फरार हो गया। इधर पूरे इलाके में पुलिस लगातार बंदी के संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। पुलिस अधिकारियों की मानें तो उसे पकड़ने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। कोर्ट के लॉकअप से हुआ था फरार बंदियों-कैदियों के भागने की यह पहली वारदात नहीं है। एक वर्ष पूर्व एक बंदी ने तो न्यायालय के लॉकअप की दीवार में ही सेंधमारी कर फरार हो गया था। इसी तरह कुछ समय पूर्व पेशी से वापस लौटने के दौरान सर्किट हाऊस रोड से दो बंदी फरार हो गए थे। हालांकि सभी बंदी कानून की गिरफ्त में आ चुके हैं। इस घटना के बाद से बंदियों-कैदियों पर नजर रखी जा रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

और पढ़ें