पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Arun Nagar An Alumnus Of DU After Working As An Assitant Director

फिल्म निर्देशकों की कतार में डीयू से जुड़ा एक और नाम

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नई दिल्ली। बॉलीवुड और दिल्ली विश्वविद्यालय का रिश्ता काफी पुराना रहा है और समय के साथ-साथ यह और मजबूत होता जा रहा है। डीयू ने इंडस्ट्री को एक से बढक़र एक कलाकार और फिल्म निर्देशक दिए हैं। फिल्म निर्देशकों की इस कतार में डीयू से जुड़ा एक और नया नाम इंडस्ट्री में अपनी चमक बिखेरने के लिए तैयार है। दरअसल, डीयू से पासआउट श्री अरुण नागर अपने बैनर कीर्ति मोशन पिक्चर्स के अंतर्गत अपनी पहली फिल्म गुर्जर आंदोलन के साथ इंडस्ट्री में दस्तक देने जा रहे हैं। फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है और यह मार्च महीने में रिलीज होने जा रही है।

अरुण नागर का जन्म गाजियाबाद के दुजाना गांव में हुआ। उन्होंने अपनी आरंभिक शिक्षा गांव में ही प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की। ग्रेजुएशन के बाद अरुण नागर ने फिल्म इंडस्ट्री का रुख किया। वर्षों के लम्बे संघर्ष के बाद उन्हें टीवी धारावाहिकों में एक्टिंग का मौका मिलना शुरू हो गया। उन्होंने विभिन्न चैनल्स पर प्रसारित होने वाले करीब १५ धारावाहिकों में अभिनय किया है। इनमें काव्यांजलि, मायका, सेवन, किस्मत, खोटे सिक्के, ढूंढ लेगी मंजिल हमें, वसियत, गीत और शोभा सोमनथ आदि प्रमुख तौर पर शामिल हैं। यही नहीं, उन्होंने हॉलीवुड की एक फिल्म शेमशूक में भी बतौर सहायक काम किया है। हाल में उन्होंने बॉलीवुड की एक फिल्म प्रलय में बतौर सहायक निर्देशक और कलाकार के तौर पर भी काम किया है। इस फिल्म में रघुवीर यादव, आदित्य पंचोली, मुकेश तिवारी, शक्ति कपूर और मोहन जोशी जैसे मंझे हुए कलाकारों के साथ वे दिखाई देंगे।

अरुण नागर ने बताया कि उनके कई वर्षों की मेहनत अब सफल होने जा रही है। बतौर निर्देशक उनकी पहली फिल्म गुर्जर आंदोलन: ए फाइट फॉर राइट है। फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है और इसके पोस्ट प्रोडक्शन का काम तेजी से चल रहा है। फिल्म को मार्च तक रिलीज किया जाएगा। फिल्म में सुरेंद्र पाल, हिमानी शिवपुरी, मुश्ताक खान, एहसान खान और अली खान जैसे कलाकारों ने अहम भूमिकाएं निभाई हैं। अरुण नागर ने बताया कि फिल्म राजस्थान के गुर्जर आंदोलन की पृष्ठभूमि पर आधारित है। इसमें गुर्जर आंदोलन से जुड़े कई ऐसे अनछुए दृश्य देखने को मिलेंगे जो सरकार और समाज को झकझोर कर रख देंगे। अरुण ने बताया कि बचपन से उन्हें अभिनय और निर्देशन के क्षेत्र में रूचि थी। इसके लिए उन्होंने बहुत मेहनत की और नतीजा सबके सामने है।