पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • With The Help Of Science, Spirituality Accidents W

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विज्ञान के साथ अब अध्यात्म के सहारे लगेगा हादसों पर ब्रेक

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली। दुर्घटनाओं पर ब्रेक लगाने के लिए डीटीसी प्रबंधन विज्ञान के साथ ही अध्यात्म का भी सहारा ले रहा है। ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (जीपीएस) के जरिए बसों पर नजर रख कर जहां प्रबंधन दुर्घटनाओं पर नियंत्रण लगा रहा है, वहीं चालक-परिचालक को दुर्घटनाएं रोकने के लिए मानसिक तौर पर प्रशिक्षण देकर तैयार कर रहा है। योगा और तकनीक के बेहतर नतीजों के चलते ही प्रबंधन ने प्रशिक्षण स्कूलों की संख्या बढ़ाकर सात कर दी है। योग के साथ एहसास रिफ्रेशिंग कोर्स में ड्राइवर और कंडक्टरों को बस चलाने और यातायात नियमों का पालन करने का प्रशिक्षण दिया जाता है। साथ ही उन्हें योगा और सर्व धर्म प्रार्थना कराई जाती है। फिल्म, स्लाइड और वृतचित्रों को दिखाकर उनको यह एहसास करवाने का प्रयास किया जाता है कि दुर्घटना में मारे जाने वाले अकेले नहीं मरते हैं। उनके साथ वे सभी लोग मर जाते हैं, जो मरने वाले पर आश्रित होते हैं। एके श्रीवास्तव, उप प्रबंधक प्रशिक्षण डीटीसी यहां दिया जाता है प्रशिक्षण नंद नगरी, द्वारका सेक्टर-8, सुभाष पैलेस डिपो, सरोजनी नगर डिपो, पीरागढ़ी डिपो, रोहिणी सेक्टर-4 , तेहखंड डिपो जीपीएस के माध्यम से दुर्घटनाओं को रोकने में विभाग को सफलता मिली है। दरअसल, इससे बसों के साथ ही चालक-परिचालक पर भी नजर रहती है। जीपीएस के माध्यम से इस वर्ष ओवर स्पीड, ओवरटेक और दुर्घटना करने के आरोपी 40 से अधिक ड्राइवरों व कंडक्टरों के चालान किए गए हैं। कुछ से फाइन वसूला गया है। इसके साथ ही डीटीसी के चालकों-परिचालकों को मानसिक तौर पर दुर्घटनाएं रोकने के लिए तैयार करने को प्रशिक्षण स्कूलों में रिफ्रेशिंग कोर्स के लिए भेजा गया है। शरत कुमार, प्रवक्ता डीटीसी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

और पढ़ें