--Advertisement--

ये 6 फिल्मी सीन बताते हैं, कैसा होता है बाप-बेटी का रिश्ता

डैडी की बेटी हो या मम्मी की? जवाब अक्सर मिलेगा डैडी की। वाकई घर में बेटी ही पिता की सबसे प्यारी होती है।

Dainik Bhaskar

Feb 06, 2018, 04:28 PM IST
Emotional Bollywood scenes of Father and Daughter
डैडी की बेटी हो या मम्मी की? जवाब अक्सर मिलेगा डैडी की। वाकई घर में बेटी ही पिता की सबसे प्यारी होती है। जब बेटी छोटी होती है तो पिता की दुलारी होती है। जैसे-जैसे वो बड़ी होती है पिता उसके दुलारे होते जाते हैं...एक उम्र ये भी आती है जब बेटियां पिता का ख्याल मां की तरह रखती हैं। कोई ताज्जुब नहीं कि हर शख्स में लड़कियां फादर फिगर ढूंढती हैं। आज हम आपको दिखा रहे हैं बॉलीवुड की फिल्मों के पांच सीन जो किसी भी बाप-बेटी को रुलाने के लिए काफी हैं...
एक समय था जब पिता को पुत्री संतान के नाम से नफरत होती थी, लेकिन आज हालात बदले हैं... बेटी पिता के लिए कोई बोझ होती बल्कि पिता की शान होती है । बाप-बेटी का रिश्ता एक दोस्ती से कम नहीं होता। हर लड़की अपने पिता की आँखों का तारा होती हैं| पिता और बेटी का ये अनोखा रिश्ता शायद ही शब्दों में बयान किया जा सकता है|
बेटियों को पापा अधिक समझदार एवं स्पोर्टिव लगते हैं और पिता फक्र से कहते हैं यह मेरी बेटी नहीं बेटा है या मेरी बेटी किसी बेटे से कम नहीं...हर घर में बिटिया पिता की लाडली होती है पापा की परी और घर में सबसे प्यारी ,बड़ा गहरा चाव और लगाव होता है। बाप बेटी का, तभी तो उम्र के हर पड़ाव पर पापा उनके लिये खास भूमिका निभा रहे होते है कभी बचपन में हर खेल में जीत दिलाने वाले सुपरमैन की भूमिका में होते है। तो कभी बिटिया की विदाई के समय बच्चों की तरह फुट - फूटकर रोते है।
।मनोवैज्ञानिक कहते हैं पिता के मन की अतल गहराइयों में पिता का प्रेम व रूझान जितना बेटी की तरफ होता है उतना बेटे की तरफ नहीं होता। भले ही पिता-पुत्री के बीच का यह प्यारा रिश्ता आज प्रकट होने लगा हो लेकिन यह पूरी तरह से मनोवैज्ञानिक है।
X
Emotional Bollywood scenes of Father and Daughter
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..