Hindi News »DB Videos »DBV» Reasons Why Congress Failed In Gujarat Election 2017

जीतते-जीतते क्यों हारी कांग्रेस ? देखें वीडियो

जीतते-जीतते हार गयी कांग्रेस, ऐसा क्यों हुआ, हम आपको बताते हैं

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 19, 2017, 03:38 PM IST

2012 के चुनावों में बीजेपी को 48 फीसदी वोट मिले थे जबकि कांग्रेस को करीब 39 फीसदी मतलब की कांग्रेस बीजेपी से महज 9 फीसदी वोटों से ही पीछे थी। जीतते-जीतते हार गयी कांग्रेस...ऐसा क्यों हुआ..हम आपको बताते हैं...बीजेपी के 'चाणक्य' कहे जाने वाले अध्यक्ष अमित शाह, सीएम विजय रुपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, कई केंद्रीय मंत्री, अन्य राज्यों से आए नेताओं ने जमकर प्रचार किया...गुजरात चुनावों के दौरान राहुल गांधी के सोमनाथ मंदिर कॉन्ट्रोवर्सी से बीजेपी को फायदा हुआ...बीजेपी ने पाटीदार नेताओं को तोड़ लिया.. पार्टी का स्लोगन ‘विकास पागल हुआ’सोशल मीडिया में ट्रेंड करने लगा लेकिन जैसे-जैसे चुनावी सरगर्मियां बढ़ने लगीं कांग्रेस की सोशल मीडिया विंग का आक्रामक अंदाज घटता गया..कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने दूसरे चरण की वोटिंग से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीच आदमी कहा था। कांग्रेस नेता का यह बयान बीजेपी को फायदा पहुंचा गया। पाटीदारों को आरक्षण देने के लिए हार्दिक पटेल ने कांग्रेस से हाथ मिलाया, इससे कांग्रेस के फायदा तो हुआ पर बीजेपी ने पाटीदार नेताओं को तोड़ कर रख दिया। कांग्रेस में राहुल गांधी को छोड़ कोई बड़ा चेहरा स्टार प्रचारक नहीं था पर बीजेपी में पीएम मोदी और अमित शाह के अलावा कई राज्यों के मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और अन्य बड़े लोग चुनाव प्रचार कर रहें थे..कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात चुनाव के दौरान न केवल दलितों, अल्पसंख्यकों, किसानों, व्यापारियों और बेरोजगारों की आवाज बुलंद की है बल्कि सोशल मीडिया के जरिए सवाल पूछकर पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की बोलती भी बंद की है शायद इन्हीं वजहों से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह अपने टारगेट 150 सीटों से पीछे रहे हैं...पर ये चुनाव हारने के बाद भी कांग्रेस खुश हैं क्योंकि भाजपा और कांग्रेस में काटे की टक्कर दिखी और ऐसा 35 वर्ष बाद हुआ...
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From DBV

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×