DBV

--Advertisement--

कैसे बनता है कैप्सूल, सुनेंगे तो आपको भी आ जाएगी घिन

बीमारी में हम सभी ने कैप्सूल का खाया है । कैप्सूल दो हिस्से से मिलकर बनता है।

Danik Bhaskar | Nov 25, 2017, 02:21 PM IST

बीमारी में हम सभी ने कैप्सूल का खाया है । कैप्सूल दो हिस्से से मिलकर बनता है। बाहरी हिस्सा, जो रबड़ की तरह दिखाई देता है, वहीं, अंदर के हिस्से में दवा भरी होती है, जो शरीर में जाते ही घुल जाती है...

अब सवाल है कि कैप्सूल का ये रबर जैसा मुलायम खोल बनता कैसे है? हो सकता है कि आपको ये बात सुनकर घिन आने लगे, लेकिन आपको बता दें कि ये मुलायम सा दिखने वाला हिस्सा दरअसल जिलेटिन होता है। ये जिलेटिन जानवरों में पाया जाता है..ज्यादातर कैप्सूल बनाने के लिए सुअर और बैल की बड़ी आंत और हड्डी का इस्तेमाल किया जाता है...जानवरों से बनने वाले इन कैप्सूल का सेवन मांसाहारी और शाकाहारी दोनों तरह के लोग करते हैं... भारत की बात करें तो यहां 98% कैप्सूल जिलेटिन से ही बनते हैं, क्योंकि ये सस्ते और आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं...हालांकि भारत सरकार ने बीते दिनों में पेड़-पौधों के सेल्यूलोज से कैप्सूल बनाने की बात कही है, लेकिन ये तकनीक फिलहाल महंगी है