Hindi News »Self-Help »Knowledge» Hyderabad's Chilkur Balaji Temple To Make US Visa

यहां भगवान देते हैं स्टूडेंट्स को VISA, जानें कैसे होती है ये मुराद पूरी

पढ़ाई करने या जॉब करने के लिए कई स्टूडेंट्स अब्रॉड जाना चाहते हैं। हालांकि, कई बार उनके ये सपना वीजा न मिल पाने के वजह से पूरा नहीं हो पाता। ऐसे स्टूडेंट्स का सपना हैदराबाद के एक मंदिर में पूरा हो जाता है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Sep 09, 2016, 12:05 AM IST

  • एजुकेशन डेस्क। पढ़ाई करने या जॉब करने के लिए कई स्टूडेंट्स अब्रॉड जाना चाहते हैं। हालांकि, कई बार उनके ये सपना वीजा न मिल पाने के वजह से पूरा नहीं हो पाता। ऐसे स्टूडेंट्स का सपना हैदराबाद के एक मंदिर में पूरा हो जाता है। जी हां, अब इसे अंधविश्वास कहें या चमत्कार, लेकिन ऐसा माना जाता है कि चिलकुर स्थित बालाजी मंदिर में वीजा से जुड़ी मुराद पूरी हो जाती है। इसे अब वीजा टेंपल के नाम से भी जाना जाता है। ऐसी मान्यता बन चुकी है कि यहां बालाजी के दर्शन करने से लोगों के वीजा लगते हैं। एक नारियल से मुराद पूरी...
    इस मंदिर की खास बात ये है कि यहां किसी तरह की दान-दक्षिणा नहीं ली जाती। बालाजी को खुश करने के लिए सिर्फ एक नारियल ही काफी होता है। ये मंदिर करीब 500 साल पुराना है। जहां हर महीने लगभग 5 लाख लोग दर्शन करने के लिए पहुंचते हैं।
    वीजा के लिए पूजा :
    ऐसी मान्यता है कि चिलकुर बालाजी की 11 परिक्रमा लगाने से वीजा से जुड़े काम आसान हो जाते हैं। ऐसा माना जाता है कि 11 परिक्रमा का मतलब एक आत्मा और एक शरीर से होता है। इतना ही नहीं, जब किसी स्टूडेंट्स या अन्य भक्त को वीजा मिल जाता है तब उसे मंदिर की 108 परिक्रमा लगाना होती हैं।
    सिर्फ तीन दिन दर्शन :
    लोग भगवान विष्णु की 'वीजा गॉड' के रूप में पूजा करते हैं। ये मंदिर सप्ताह में तीन दिन शुक्रवार, शनिवार और रविवार के दिन खुलता है। इसी वजह से इन तीन दिन में यहां 75 हजार से 1 लाख श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं। वही, महीनेभर में इनकी संख्या करीब 5 लाख होती है।
    मंदिर में नहीं दान-पेटी :
    इस पूरे मंदिर में कहीं भी किसी तरह की दान-पेटी नहीं है। यानी भक्तों को यहां कैश रुपया नहीं चढ़ाना होता। वहीं, मंदिर के पुजारी भी किसी तरह की धनराशि नहीं लेते। वीजा मांगने वाले भक्तों को सिर्फ भगवान के चरणों में एक नारियल चढ़ाना होता है। यहां ज्यादातर वो स्टूडेंट्स आते हैं जिन्हें यूएस का वीजा चाहिए होता है।
    आगे की स्लाइड्स पर देखिए चिलकुर बालाजी मंदिर के अंदर और बाहर के चुनिंदा फोटोज...
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Knowledge

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×