Hindi News »Self-Help »Knowledge» Common Mistakes Students Make In Exams & Tips To Get Top Score

90% स्टूडेंट्स अक्सर करते हैं ये 10 गलतियां, बेहतर स्कोर के लिए ये हैं TIPS

कई स्टूडेंट्स एग्जाम के दौरान अच्छी तैयारी के बावजूद ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिन्हें सिली मिस्टेक कहा जाता है।

bhaskar news | Last Modified - Feb 29, 2016, 12:52 PM IST

  • बारहवीं बोर्ड की परीक्षाएं 1 मार्च से शुरू हो गई हैं। कई स्टूडेंट्स एग्जाम के दौरान अच्छी तैयारी के बावजूद ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिन्हें सिली मिस्टेक कहा जाता है। फिर रिजल्ट आने के बाद उन्हें लगता है कि पूरा पेपर सॉल्व किया, फिर कमी कहां रह गई? इस बारे में स्टूडेंट्स को गाइड कर रहे हैं एजुकेशन एक्सपर्ट सीए मुकेश सिंह राजपूत।
    सीए राजपूत सेमिनार और अपनी बुक के जरिए बच्चों को मार्गदर्शन देते हैं। दैनिक भास्कर से बातचीत में उन्होंने बताया कि स्टूडेंट्स की 90 फीसदी गलतियां कॉमन होती हैं, फिर वह चाहे बारहवीं के स्टूडेंट्स हो या सीए के। उन्होंने परीक्षाओं में की वाली कॉमन मिस्टेक्स और बेहतर मार्क्स लाने के लिए कुछ टिप्स बताए हैं...
    ये हैं वो कॉमन मिस्टेक्स
    - 01 सैंपल पेपर में प्रैक्टिस किया कोई सवाल यदि फाइनल में आ जाए, तो लगता है कि वही सवाल आ गया, जबकि सवाल शुरुआत में मिलता-जुलता है, लेकिन आखिर तक अलग हो जाता है।
    - 02 प्रश्न क्रमांक गलत डाल देना। यानी सवाल नंबर 2 का जवाब लिखते वक्त उत्तर क्रमांक तीन
    डाल देना।
    - 03जवाब का स्ट्रक्चर तय न करना, यानी अहम बात आखिर में लिखना।
    - 04 जवाब में चित्र बनाना, लेकिन उसकी ले बलिंग न करना।
    - 05 रनिंग टेक्स्ट लिखते जाना। कहीं हाइलाइट या सब-हैड या पॉइंटर्स न होना।
    आगे की स्लाइड्स में 5 और कॉमन मिस्टेक्स और बेहतर स्कोर के TOP टिप्स...
  • - 06 कम अंक के सवाल में ज्यादा लिखना और ज्यादा अंक के सवाल का जवाब कम लिखना।
    - 07पूरा पेपर पढ़ेबिना हल करना शुरू कर देना।
    - 08 उप-प्रश्नों के बीच जगह छोड़ देना।
    - 09 गलत पेन का इस्तेमाल करना।
    - 10 पेपर के बीच में छोड़े जा रहे सवालों को अलग से मार्क न करना।
  • एग्जाम में बेहतर स्कोर के लिए Imp.TIPS
    - पहले जवाब का शीर्षक, फिर एक्सप्लेनेशन और आखिर में कन्क्लूज़न दें।
    - उत्तर को पॉइंटर्स और सब-हैड में बांटकर जवाब लिखें।
    - हर जवाब के बाद दो लाइन खींच दें, ताकि पता चल सके कि जवाब खत्म हो गया है।
    - अधिक अंक के जो सवाल आते हैं, उन्हें पहले हल करें।
    - अंक के आधार पर उत्तर लिखें। ऐसा नहीं की चार अंक के सवाल पर ज्यादा और छह अंक के सवाल पर
    कम लिखा।
  • - लिखावट सुंदर न भी हो तो चलेगा, लेकिन परीक्षक के पढ़ने योग्य राइटिंग हो।
    - कुछ शब्द जिनके लिखने पर कंफ्यूजन महसूस होता हो, उन्हें और स्पष्टता के साथ लिखें।
    -10 से 15 मिनट पूरा पेपर ध्यान से पढ़ें, ताकि स्ट्रेटजी बनाई जा सके।
    - सवाल के अंदर भी सवाल हों तो उप-प्रश्न को भी उसी पेज पर लिखें, जिस पर मुख्य प्रश्न का
    जवाब लिखा हो ताकि परीक्षक को पहली नजर में ही दोनों जवाब दिख जाएं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Knowledge

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×