Hindi News »Self-Help »Knowledge» Kargil Martyr Daughter Komal Preet Comes Up Trumps In PMET

पिता हुए थे कारगिल में शहीद, बेटी ने किया PMET टॉप, अब बनेगी डॉक्टर

कारगिल युद्ध में देश के शहीद होने वाले सिपाही बूटा सिंह की बेटी ने पंजाब मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट (PMET) में रक्षा कार्मिकों के लिए आयोजित किए जाने वाले एग्जाम को टॉप किया है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jul 27, 2016, 02:09 PM IST

एजुकेशन डेस्क। कारगिल युद्ध में देश के शहीद होने वाले सिपाही बूटा सिंह की बेटी ने पंजाब मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट (PMET) में रक्षा कार्मिकों के लिए आयोजित किए जाने वाले एग्जाम को टॉप किया है। इस लड़की का नाम कोमल प्रीत कौर है और वे पंजाब के किसी प्रतिष्ठित सरकारी मेडिकल कॉलेज से MBBS करना चाहती हैं।
कोमल के पिताजी 14 सिख रेजिमेंट का हिस्सा थे और 28 मई, 1999 की तारीख को महज 26 साल की उम्र में शहीद हो गए थे। वे 20 साल की उम्र में सेना से जुड़े थे। कोमल की मां अमृतपाल कौर ने बताया कि कोमल सिर्फ 4 महीने की थी जब उनके पिता शहीद हो गए थे। जिस दिन उन्हें अपने पति के शहादत की खबर मिली वो खुद को दुनिया की सबसे अभागी महिला मान रही थी, लेकिन आज अपनी बेटी की उपलब्धि पर बहुत खुश हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Knowledge

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×