Hindi News »Self-Help »Knowledge» Central Govt To Add 2.2 Lakh Central Employees In Two Years

सेंट्रल गवर्नमेंट में बढ़ी कर्मचारियों की संख्या, अभी भी हैं 6 लाख से ज्यादा वैकेंसी

रेवेन्यू डिपार्टमेंट 70 हजार और सेंट्रल पैरा मिलिट्री फोर्सेस में 47 हजार पोस्ट्स के लिए सिलेक्शन होना है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 18, 2016, 01:26 PM IST

  • एजुकेशन डेस्क। मोदी सरकार 2.2 लाख सेंट्रल इम्प्लॉइज की भर्ती करेगी। 1 मार्च, 2015 की पोजिशन के मुताबिक, खाली पोस्ट्स के लिए ये भर्ती की जाएगी। पीएमओ के पर्सनल डिपार्टमेंट की मानें तो सेंट्रल गवर्नमेंट के कई डिपार्टमेंट्स में 6 लाख से ज्यादा पोस्ट्स खाली हैं। जिन डिपार्टमेंट्स में भर्ती होनी है, उनमें रेवेन्यू, होम, कैबिनेट सेक्रेटरिएट और सेंट्रल पैरा मिलिट्री फोर्सेस शामिल हैं। रेलवे में तीन साल से नहीं हुई कोई भर्ती...
    - 1 मार्च, 2015 को सेंट्रल गवर्नमेंट के इम्प्लॉइज की संख्या 33.05 लाख थी, जो 2016 में बढ़कर 34.93 लाख हो गई।
    - 2016-17 के बजट अनुमान के मुताबिक, 2017 में सेंट्रल गवर्नमेंट के इम्प्लॉइज की संख्या बढ़कर 35.23 लाख हो जाएगी।
    - इस बढ़ोत्तरी में रेलवे शामिल है, लेकिन डिफेंस फोर्सेस को बाहर रखा गया है।
    - बता दें कि रेलवे के 13 लाख 26 हजार 437 इम्प्लॉइज हैं, जिनमें बीते 3 साल में एक भी इम्प्लॉई की भर्ती नहीं हुई है।
    किस डिपार्टमेंट में कितनी भर्तियां?
    - माना जा रहा है कि रेवेन्यू (इनकम टैक्स, कस्टम और एक्साइज) में सबसे ज्यादा 70 हजार पोस्ट्स भरी जाएंगी।
    - सेंट्रल पैरा मिलिट्री फोर्सेस में 47 हजार भर्तियां होंगी।
    - होम मिनिस्ट्री में 6 हजार लोगों को अप्वाइंट किया जाएगा।
    - इन सबके अलावा कैबिनेट सेक्रेटरिएट में 301 इम्प्लॉइज और शामिल होंगे।
    - कैबिनेट सेक्रेटरिएट में 2015 में 900 इम्प्लॉइज थे। 1 मार्च, 2017 को उनकी संख्या 1201 पहुंच जाएगी।
    यहां इम्प्लॉइज की कमी
    - ग्रामीण विकास मंत्रालय में 2015 में 538 इम्प्लॉइज थे, जो 2016-17 में घटकर 472 रह जाएंगे।
    ये है कमी की वजह?
    - केंद्र सरकार के कई डिपार्टमेंट्स स्टाफ की कमी से जूझ रहे हैं।
    - इसकी मुख्य वजह यह है कि पिछले कई साल से ग्रुप बी और ग्रुप सी कैटेगरी में रिक्रूटमेंट्स नहीं हुए हैं।
    - पर्सनल मिनिस्ट्री के मुताबिक, "अब इन कैटेगरीज में काफी अप्वाइंटमेंट्स होने हैं।"
    - "सेंट्रल गवर्नमेंट के कई डिपार्टमेंट्स में 6 लाख से ज्यादा पोस्ट्स खाली हैं।"
    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें, किन डिपार्टमेंट्स में इम्प्लॉइज बढ़े...
  • इन डिपार्टमेंट्स में भी इम्प्लॉइज बढ़े
    - इन्फॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्ट्री (I&B) ने पिछले दो साल में 2200 लोगों की भर्तियां की हैं।
    - कार्मिक (पर्सनल) मंत्रालय ने बीते 2 साल में 1800 लोगों को जॉब दिया।
    - वहीं, अर्बन डेवलपमेंट मिनिस्ट्री ने 6 हजार, माइन्स मिनिस्ट्री में 4,399 और डिपार्टमेंट ऑफ स्पेस में एक हजार लोगों का सिलेक्शन हुआ।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Knowledge

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×