--Advertisement--

फिलिस्तीन की हन्नान ने जीता 10 लाख डॉलर का ग्लोबल टीचर पुरस्कार

टॉप 10 सूची में शामिल भारत की रॉबिन चौरसिया समेत अन्य को पीछे छोड़ते हुए 10 लाख डॉलर (करीब 6 करोड़ 81 लाख 26 हजार रुपए) का ‘ग्लोबल टीचर प्राइज’ जीता है।

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2016, 10:34 AM IST
फिलिस्तीन की टीचर हन्नान अल हर फिलिस्तीन की टीचर हन्नान अल हर
दुबई. फिलिस्तीन में शरणार्थी कैंप के रिफ्यूजी बच्चों को पढ़ाने वाली एक टीचर हन्नान अल हरूब ने टॉप 10 सूची में शामिल भारत की रॉबिन चौरसिया समेत अन्य को पीछे छोड़ते हुए 10 लाख डॉलर (करीब 6 करोड़ 81 लाख 26 हजार रुपए) का ‘ग्लोबल टीचर प्राइज’ जीता है। आगे पोप ने ऐसे की नाम की घोषणा...
हन्नान अल हरूब ने वैश्विक शिक्षा और कौशल मंच के समापन पर वारके फाउंडेशन का यह पुरस्कार जीता। पोप फ्रांसिस ने वीडियो लिंक के जरिए हरूब के नाम की नाम की घोषणा की। 40 वर्षीय हरूब ने कहा, ''मैंने यह किया. मैं सफल रही, फलस्तीन जीता, हम सभी 10 लोगों को ताकत है, हम दुनिया बदल सकते हैं।''
‘ग्लोबल टीचर प्राइज’ पुरस्कार के फाइनल में 10 शिक्षकों में 30 साल की भारतीय टीचर रॉबिन चौरसिया का नाम भी शामिल था। मुंबई में कामतीपुर रेड लाइट जिले के लड़कियों के लिए एक गैर लाभकारी स्कूल चलाती हैं।
हन्नान फिलिस्तीन की हिंसा से पीड़ित और गहरे मानसिक अवसाद के बीच जी रहे बच्चों को बेथलहेम के पास एक शरणार्थी कैंप में पढ़ाती हैं।
हन्नान को संयुक्त राष्ट्रसंघ के महासचिव बान की-मून, अमेरिका के उपराष्ट्रपति जो बिडेन, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने बधाई संदेश इस समारोह के लिए रिकॉर्ड किए हैं।
टीचिंग प्रोफेशन को प्रोत्साहित करने के लिए नॉन प्रॉफिट वर्के फाउंडेशन की 2013 में की गई थी।
आगे की स्लाइड्स में ‘ग्लोबल टीचर प्राइज’ की टॉप 10 की लिस्ट में शामिल भारत की रॉबिन चौरसिया समेत दुनिया के अन्य टीचर...
X
फिलिस्तीन की टीचर हन्नान अल हरफिलिस्तीन की टीचर हन्नान अल हर
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..