एजूकेशन भास्कर

--Advertisement--

सुप्रीम कोर्ट का आदेश, मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए होगा एक एग्जाम

सुप्रीमकोर्ट ने कहा कि प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में भी एडमिशन अब राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) के जरिए होगा।

Danik Bhaskar

Apr 12, 2016, 10:06 AM IST
एजुकेशन डेस्क। सुप्रीमकोर्ट ने प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन संबंधित अपने पुराने आदेश को वापस लेते हुए कहा कि प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में भी एडमिशन अब राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) के जरिए होगा। इससे पहले के आदेश में सुप्रीमकोर्ट ने व्यवस्था दी थी कि प्राइवेट मेडिकल कॉलेज को एडमिशन के लिए एनईईटी का रास्ता अपनाने की जरूरत नहीं है और वे परीक्षा लेकर ग्रैजुएट और पोस्ट ग्रैजुएट पाठ्यक्रमों में दाखिला ले सकते हैं।
18 जुलाई, 2013 को आए आदेश की समीक्षा की अपील स्वीकार करते हुए सुप्रीमकोर्ट की संविधान पीठ ने प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों को छात्रों को एनईईटी के बगैर मेडिकल पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने की दी गई छूट वापस ले ली। संविधानपीठ में न्यायमूर्ति अनिल आर. दवे, न्यायमूर्ति ए. के. सीकरी, न्यायमूर्ति आर. के. अग्रवाल, न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल और न्यायमूर्ति आर. भानुमति शामिल थे।
भारतीय चिकित्सा परिषद (एमसीआई) ने सुप्रीमकोर्ट से पूर्व के फैसले की समीक्षा की अपील की थी। आदेश को वापस लेते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मामले की नए सिरे से सुनवाई का आदेश दिया था। इस आदेश से देश के 600 प्राइवेट मेडिकल कॉलेज प्रभावित होंगे। साल 2013 में 18 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट की पीठ के बहुमत के फैसले में कहा गया था कि एमसीआई को एनईईटी के आयोजन का कोई अधिकार नहीं है, क्योंकि वह केवल मेडिकल शिक्षा का नियमन करती है।
Click to listen..