--Advertisement--

इस साल 7% कम नौकरियां : घोषणाएं अभी, नौकरियां बढ़ेंगी 2-3 साल बाद

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2016, 11:48 AM IST

जॉब के अवसर दो या तीन वर्ष बाद दिखाई देंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में कंप्यूटर ट्रेनिंग की बात कही है। इससे बैंकिंग, शिक्षा, बीमा क्षेत्र में रोजगार के अवसर स्थानीय युवकों को मिल सकेंगे।

वित्तमंत्री अरुण जेटली व वित् वित्तमंत्री अरुण जेटली व वित्
नई दिल्ली. बजट मिलाजुला है, जो ग्रोथ नहीं देता है। ग्रोथ केवल इंफ्रास्ट्रक्चर में रहेगी। लगातार तीसरे वर्ष जॉब ग्रोथ कम रह सकती है। पिछले साल की तुलना में 7-8% नौकरियां कम आएंगी। यह बात एसोचैम के डायरेक्टर जनरल डीएस रावत ने कही है।
मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया और स्मार्ट सिटी का नारा देने वाली सरकार के वित्तमंत्री जेटली बजट में इन सेक्टर पर खामोश रहे। सरकार ने मौजूदा वर्ष में रोजगार के अवसर बढ़ाने के बजाए लांग टर्म में इन्हें बढ़ाने के लिए रोडमैप अवश्य पेश किया है।
सरकार ने सर्वाधिक जॉब वाले सेक्टर टेक्सटाइल, ऑटो, टेलीकॉम, ऊर्जा आईटी जैसे क्षेत्रों को किसी प्रकार का प्रोत्साहन न देकर बाजार भरोसे छोड़ दिया है। कृषि, डेयरी, शिक्षा, ग्रामीण विकास जैसे सेक्टर के लिए सरकार ने घोषणा तो की है, लेकिन उसमें जॉब के अवसर दो या तीन वर्ष बाद दिखाई देंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में कंप्यूटर ट्रेनिंग की बात कही है। इससे बैंकिंग, शिक्षा, बीमा क्षेत्र में रोजगार के अवसर स्थानीय युवकों को मिल सकेंगे।
आगे की स्लाइड्स में जॉब ट्रेंड, छोटे शहरों में भी बन रहे अवसर, इनमें महारत, तो चिंता नहीं, नौकरियों पर मोदी के दावे, लोग सोचते हैं जॉब्स हैं देश में, 40- 40 शब्दों में बजट के 10 पॉइंट, जो नौकरी पर सीधा असर डालेंगे, एक्सपर्ट बोले जॉब का बेहतर माहौल बनेगा ...
X
वित्तमंत्री अरुण जेटली व वित्वित्तमंत्री अरुण जेटली व वित्
Astrology
Click to listen..