Hindi News »Self-Help »News» Students Of IIM Indore Get 100% Placement

IIM-INDORE के जिस कोर्स का था विरोध, उसके 100% स्टूडेंट्स का हुआ प्लेसमेंट

देश के अन्य आईआईएम और कई संस्थानों ने इंटीग्रेटेड प्रोग्राम इन मैनेजमेंट (आईपीएम) का विरोध किया था।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 22, 2016, 10:19 AM IST

इंदौर. आईआईएम इंदौर ने देशभर के आईआईएम व अन्य संस्थानों के विरोध के बीच वर्ष 2011 में पांच साल का जो इंटीग्रेटेड प्रोग्राम इन मैनेजमेंट (आईपीएम) लॉन्च किया था, उसके पहले बैच का सौ फीसदी प्लेसमेंट हो गया है।
12वीं के बाद होने वाले इस कोर्स के छात्रों को भी सामान्य पीजीपी (ग्रैजुएशन के बाद कैट के जरिए होने वाले कोर्स) छात्रों की तरह ही अच्छा पैकेज मिला है।
जानकारी के अनुसार आईपीएम के 106 छात्रों के पहले बैच को औसतन 10 लाख रुपए सालाना से ज्यादा का पैकेज मिला है। इससे आईपीअम लेकर उठने वाली सारी शंकाएं अब दूर हो गई हैं।
पहले हुआ विरोध, अब हुआ सफल
साल 2011 में 12वीं के बाद छात्रों को पांच साल का आईपीएम कोर्स कराने के लिए आईआईएम इंदौर ने यह प्रोग्राम लॉन्च किया था। इसमें विरोध तब हुआ जब लोगों ने कहा कि आईआईएम केवल डिप्लोमा दे सकता है, डिग्री नहीं, तब आईआईएम इंदौर ने इग्नू के साथ समझौता कर छात्रों को डिप्लोमा के साथ डिस्टेंस एजुकेशन द्वारा बैचलर डिग्री भी दिलवाई। स्थिति यह है कि आईआईएम इंदौर के एकेडमिक बैच में भी आईपीएम का छात्र ही टॉपर बना है और पैकेज में भी कम नहीं है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×