--Advertisement--

समय के साथ करियर को नए आयाम देने के लिए ये हैं जरूरी बातें

करियर के मामले में खुद लीड लेना ही प्रॉडक्टिव बने रहने और भविष्य में अपनी नौकरी में खुश रहने का एकमात्र तरीका है।

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2016, 12:22 PM IST
फोटो प्रतीकात्मक। फोटो प्रतीकात्मक।
अब औद्योगिक क्रांति का दौर खत्म हो चुका है और सूचना क्रांति जड़ें पकड़ रही है, बीते समय के तौर-तरीके और उनकी पैरवकार कंपनियां, दोनों जल्द ही अंतिम सांसें ले रहे होंगे। ऐसे में खुद को नौकरी के योग्य बनाना अब आपकी जिम्मेदारी है। ऐसे में करियर के मामले में खुद लीड लेना ही प्रॉडक्टिव बने रहने और भविष्य में अपनी नौकरी में खुश रहने का एकमात्र तरीका है।
आगे सफल करियर के लिए क्या- क्या करें...
ध्यान रखें कि नए दौर की कंपनियां आपके डेवलपमेंट पर अपना समय और पैसा लगाकर आपको नौकरी के लिए योग्य बनाने का बीड़ा कतई नहीं उठाने वालीं। व्यापारिक योजनाओं की तरह ही करियर संबंधी योजनाओं को भी तयशुदा तरीके से लागू किया जा सकता है।
आगे की स्लाइड्स में क्या है करियर प्लानिंग अपडेट रहना क्यों जरूरी, क्या हासिल करना चाहते हैं, क्या है योजना...
फोटो प्रतीकात्मक। फोटो प्रतीकात्मक।
 
करियर प्लानिंग और करियर मैनेजमेंट दरअसल समस्या का समाधान करने और फैसले लेने से संबंधित प्रक्रिया है। समस्याओं का समाधान करने और फैसले लेने का काम उपलब्ध अधिकतम जानकारी के आधार पर और पूरे तर्कसंगत तरीके से किया जाना चाहिए। सफल व्यापारों की तरह करियर के मामले में भी यह किया जा सकता है:
 
- अपनी करियर संबंधी गतिविधियों को उपलब्ध संसाधनों और बाहरी अवसरों के आधार
पर प्लान करें।
- करियर योजना को छोटे-छोटे चरणों में बांटकर अंजाम दें। फिर प्राप्त नतीजों को बारीकी से समझते हुए आगे की कार्रवाई में अपेक्षित परिवर्तन करें। 
 
फोटो प्रतीकात्मक। फोटो प्रतीकात्मक।
अपडेट रहें

अपने करियर पर नियंत्रण हासिल करने का पहला कदम है, जानकारी जुटाना। ऐसा अपने आंतरिक संसाधनों और बाहरी संदर्भ को मद्देनज़र रखते हुए करें। करियर एक्सप्लोरेशन के शुरुआती चरणों में आप स्वयं तथा अपने परिवेश को लेकर जागरूक बनेंगे जैसे कि इसमें आपकी रुचियां, नैतिक मूल्य, प्रतिभा, अवसर, अवरोध और परिवेश सब शामिल हैं। 
 
यह बहुआयामी जागरूकता आपकी योजना को आपके लक्ष्यों से जोड़ेगी, जिसके बाद आप अपनी योजना को चरण-दर-चरण लागू कर सकेंगे। उदाहरण के लिए इंटरपर्सनल स्किल्स के लिए आप विभिन्न शैक्षणिक कार्यक्रम चुन सकते हैं या फिर दोस्तों और परिवार की मदद ले सकते हैं। 
 
अपने परिवेश से मिलने वाला रीयल टाइम फीडबैक आपकी अपने लक्ष्य और उन्हें लागू करने के तरीकों में आवश्यक परिवर्तन करने में मदद करेगा। 
फोटो प्रतीकात्मक। फोटो प्रतीकात्मक।
आप क्या हासिल करना चाहते हैं

आप क्या हासिल करना चाहते हैं, यह स्पष्ट रूप से परिभाषित करने के लिए नीचे दी गई पांच चरणों
वाली प्रक्रिया को अपनाएं:
- अपनी समस्याओं को चिह्नित करते हुए विकल्पों को समझें। 
- गहन प्रश्नोत्तर, जानकारी जुटाने और आत्मकनिरीक्षण द्वारा विश्लेषण करें।
- संभावित समाधानों को चिह्नित करें।
- समाधानों को अपने नैतिक मूल्यों और उनके संभावित प्रभावों की कसौटी पर रखकर समझें।
- विकल्पों को आज़माकर और अच्छी तरह सोच-विचार कर लागू करें।
करियर प्लानिंग में आने वाली सबसे बड़ी बाधाओं में से एक यह तथ्य है कि करियर पूरी जिंदगी से जुड़ी चीज़ 
है। सही रास्ते पर बने रहने के लिए शॉर्ट-टर्म योजनाओं की ज़रूरत पड़ती है, लेकिन समय के साथ आवश्यक सुधार करना और भावी योजनाएं बनाना भी आना चाहिए। जैसे-जैसे आप अपने करियर में आगे बढ़ेंगे, आप पाएंगे कि कभी अत्यंत महत्वपूर्ण और अनमोल रहे असेट्स अब पुराने और आउटडेटेड हो गए हैं। बाज़ार में अपनी मांग बनाए रखने की एक ही कुंजी है और वो है, अपने करियर को लगातार नए आयाम देते रहना। 
 
फोटो प्रतीकात्मक। फोटो प्रतीकात्मक।
आपकी योजना क्या है

- अपने करियर को एक संसाधन के रूप में देखें, जिसे आपको डेवलप करना है। आपको अपने करियर से
जुड़ी तीन पूंजियों को विकसित करना है:

- पहली है, आपके करियर से जुड़ा ‘क्यों’, यह आपकी उस प्रेरणा और नैतिक मूल्यों से संबंधित है,
जो आपको रोज़ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने को प्रेरित करते हैं।

- दूसरी है, यह जानना कि आप अपने काम को ‘कैसे’ करेंगे, अपने सर्वश्रेष्ठ़ प्रदर्शन के लिए आपको किस प्रकार के कौशल और विशेषज्ञता की ज़रूरत पड़ेगी।
 
- तीसरी है, ‘किसको’ यानी यह जानना कि करियर बनाने और उसमें आगे बढ़ने के लिए आपको किससे संपर्क करना होगा और किस ने‍टवर्क को समझना होगा।
 
इन तीनों क्षेत्रों में आपके असेट्स समय के साथ बदलते रहेंगे, न केवल अपने विस्तार के मामले में बल्कि अपनी प्रवृत्ति में भी। समय-समय पर यह देखते रहना अच्छा रहेगा कि ये परिवर्तन कब और कैसे आ रहे हैं 
और उनका आपके करियर के लिए क्या‍ महत्व है। 
 
X
फोटो प्रतीकात्मक।फोटो प्रतीकात्मक।
फोटो प्रतीकात्मक।फोटो प्रतीकात्मक।
फोटो प्रतीकात्मक।फोटो प्रतीकात्मक।
फोटो प्रतीकात्मक।फोटो प्रतीकात्मक।
फोटो प्रतीकात्मक।फोटो प्रतीकात्मक।
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..