--Advertisement--

इस IPS के सपोर्ट में पूरा शहर उतरा सड़कों पर, जानिए इनकी पूरी कहानी

मप्र के शहर कटनी के एसपी गौरव तिवारी का ट्रांसफर रुकवाने के लिए पूरा शहर सड़कों पर है। तिवारी का ट्रांसफर कटनी से छिंदवाड़ा कर दिया गया है। वे बैंकों और हवाला कारोबार करने वालों के गठजोड़ की जांच कर रहे थे। गौरव तिवारी की लाइफ इंस्पायरिंग है। छोटे से गांव से निकलकर वे आईआईटी तक पहुंचे। आईपीएस बनना चाहते थे लेकिन तैयारी के लिए पैसे नहीं थी इसलिए प्राइवेट नौकरी की।

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2017, 03:08 PM IST
Untold Story Of Katni SP Gorav Tiwari
करियर डेस्क। मप्र के कटनी के SP रहे गौरव तिवारी का ट्रांसफर रुकवाने के लिए पूरा शहर सड़कों पर है। तिवारी का ट्रांसफर कटनी से छिंदवाड़ा कर दिया गया है। वे बैंकों और हवाला कारोबार करने वालों के गठजोड़ की जांच कर रहे थे। ऐसी है सक्सेस स्टोरी...
गौरव तिवारी की लाइफ इंस्पायरिंग है। छोटे से गांव से निकलकर वे IIT तक पहुंचे। वे IPS बनना चाहते थे, लेकिन इसकी तैयारी के लिए पैसे नहीं थी। इसलिए उन्होंने प्राइवेट नौकरी की और फिर वे उन्होंने UPSC की एग्जाम क्रैक की।
क्या करते हैं गौरव के पिता, ये कैसे बने IPS, जानिए आगे की स्लाइड्स में …
गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज
गांव में ही पले-बढ़ें ...
 
गौरव तिवारी बनारस के पास स्थित एक गांव के रहने वाले हैं। उनकी शुरुआती स्कूली पढ़ाई भी गांव में ही हुई। उनके पिता अरुण तिवारी पेशे से किसान हैं। मां गृहिणी हैं। 
 
गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज
पहले की IIT
 
गौरव बचपन से ही पढ़ाई में आगे रहे। उन्होंने मेहनत करके IIT का एंट्रेस एग्जाम क्लियर किया। अच्छे मार्क्स के चलते उन्हें आईआईटी कानपुर में एडमिशन मिल गया। यहां स्कॉलरशिप भी मिली जिसके चलते वे इस संस्थान से पढ़ाई कर सके।
 
गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज
टाटा केमिकल में की सर्विस...
 
गौरव का सपना शुरू से ही आईपीएस अधिकारी बनने का था। हालांकि UPSC एग्जाम की तैयारी करने लायक पैसे भी उस समय उनके पास नहीं थे।  इसी कारण उन्होंने आईआईटी के बाद टाटा केमिकल ज्वॉइन की। दो साल के बाद वे UPSC की एग्जाम की तैयारी के लिए दिल्ली चले गए। वहां दो साल की मेहनत के बाद एग्जाम क्रेक की।
 
Untold Story Of Katni SP Gorav Tiwari
कटनी में बस छह माह ही रह पाए...
 
तिवारी एक्सिस बैंक सहित कई बैंकों में फर्जी खातों से 500 करोड़ के हवाला लेनदेन की जांच कर रहे थे। 
वे कटनी में 6 माह की पोस्टेड रहे। इतने कम समय में उनका काम ऐसा रहा कि शहर की जनता उन्हें कटनी से जाने नहीं देना चाहती। 
 

ये भी पढ़ें...

 

X
Untold Story Of Katni SP Gorav Tiwari
गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोजगौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज
गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोजगौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज
गौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोजगौरव की फेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई फोटोज
Untold Story Of Katni SP Gorav Tiwari
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..