Hindi News »Self-Help »Self Help» 10 Best Jobs For Work Life Balance

इन 10 में से एक कोई एक जॉब करेंगे तो घर और ऑफिस दोनों जगह रहेंगे खुश

कई जॉब ऐसी होती हैं जिनमें हम अपनी पर्सनल लाइफ को बिल्कुल टाइम नहीं दे पाते। इस वजह से फैमिली में भी प्रॉब्लम क्रिएट होती हैं। ऑनलाइन करियर कम्यूनिटी ग्लासडोर ने ऐसी 10 जॉब बताई हैं जिनमें जॉब और पर्सनल लाइफ में बैलेंस बनाना आसान होता है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 27, 2016, 12:05 AM IST

  • करियर डेस्क।कई जॉब ऐसी होती हैं जिनमें हम अपनी पर्सनल लाइफ को बिल्कुल टाइम नहीं दे पाते। इस वजह से फैमिली में प्रॉब्लम क्रिएट होती हैं। वहीं कई बार ऑफिस में पूरा टाइम न देने पाने के कारण बॉस की डांट खाना पड़ती है। करियर कम्यूनिटी ग्लासडोर ने ऐसी 10 जॉब बताई हैं जिनमें जॉब और पर्सनल लाइफ में बैलेंस बनाना आसान होता है। जानिए कौन सी हैं वे 10 जॉब और क्या है उनकी खासियत।

    आगे की स्लाइड्स में जानिए वे 10 जॉब…
  • > डाटा साइंटिस्ट 21वीं सेंचुरी की सबसे आकर्षक जॉब भी कही जा रही है। डाटा मैनेजर, डाटा एनालिस्ट जैसे जॉब टाइटल भी इसी में आते हैं। सिर्फ यूएस में ही अभी डेढ़ लाख डाटा एनालिस्ट की जरूरत है। हर कंपनी ग्रोथ के लिए डाटा पर डिपेंड हो चुकी है। 2024 तक इस फील्ड में 16 परसेंट ग्रोथ की संभावना है। इंडिया में डाटा साइंटिस्ट को 6 लाख रुपए का एवरेज पैकेज ऑफर हो रहा है।
  • > गूगल, याहू, बीइंग जैसे सर्च इंजन पर अपनी वेबसाइट्स की रैंकिंग बढाने के लिए सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (seo) एक्सपर्ट की हर कहीं डिमांड है। कोड, इंफॉर्मेशन आर्किटेक्चर व यूजर एक्सपीरियंस के जरिए एसईओ किसी भी वेबसाइट की सर्चिंग बढ़ाने का काम करते हैं।
  • > फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यू-टयूब जैसे सोशल प्लेटफॉर्म का जिस तेजी से यूज बढ़ रहा है वैसे ही सोशल मीडिया मैनेजर की डिमांड बढ़ रही है। कंटेंट की पब्लिक में रीच कैसे बढ़ाई जाए। ज्यादा से ज्यादा यूजर कैसे बनाएं जाएं, इसको लेकर प्लानिंग करने का काम सोशल मीडिया मैनेजर का ही होता है।
  • > नई-नई जगह घूमना चाहते हैं। हिस्ट्री, फेमस प्लेस पर जाना और वहां के बारे में जानना अच्छा लगता है तो टूर गाइड की जॉब बेहतर है। हॉस्पिटेलिटी, टूरिज्म इंडस्ट्री में होने वाले कोर्सेस के जरिए आप इस फील्ड में काम कर सकते हैं।
  • > फिटनेस इंस्ट्रक्टर की जॉब भी डिमांड में है। स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया, इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिकल एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स साइंसेज जैसे इंस्टीट्यूट से आप फिटनेस का प्रोफेशनल सर्टिफिकेट, डिप्लोमा या डिग्री कोर्स कर सकते हैं।
  • > इंडिया में यूजर एक्सपीरियंस डिजाइनर की एवरेज पे 6 लाख रुपए तक पहुंच चुकी है। इस फील्ड में काम करने के लिए यूजर इंटरफेस, इंफॉर्मेशन आर्किटेक्चर, यूजर रिसर्च की स्किल्स आना जरूरी हैं। फाइन आर्ट, ग्राफिक आर्ट, मल्टीमीडिया के कोर्स इस फील्ड में आने के लिए किए जा सकते हैं।
  • > अपने ब्रांड को मेंटेन करने के लिए अब मल्टीनेशनल कम्पनीज (MNCs) को कॉरपोरेट कम्यूनिकेशन एक्सपर्ट की जरूरत है। इंप्लाइज, क्लाइंट्स और कस्टमर्स सभी को कम्यूनिकेशन मैनेजर को ही हैंडल करना होता है। कॉरपोरेट कम्यूनिकेशन के बाद एडवरटाइजिंग, पब्लिक रिलेशन्स, इन्वेस्टर रिलेशन्स, ब्रांड मैनेजमेंट, इंटरनल कम्यूनिकेशन, इवेंट प्रमोशन, मार्केटिंग में जॉब की जा सकती है।
  • > यदि आप फाइनेंशियल एनालिसिस अच्छा कर सकते हैं तो इन्वेस्टमेंट एनालिस्ट की जॉब कर सकते हैं। इस प्रोफेशन में आना है तो ग्रैजुएशन में मैथ्स कम से कम एक सब्जेक्ट जरूर होना चाहिए। इसके अलावा एमबीए, अकाउंटिंग, फाइनेंस का भी अच्छा नॉलेज होना चाहिए। सीए का कोर्स भी आप इस फील्ड में आने के लिए कर सकते हैं।
  • > ऑफिस की डे-टू-डे एक्टिविटीज जैसे फाइनेंशियल प्लानिंग, बिलिंग, रिकॉर्ड मेंटेन करने का काम एडमिनिस्ट्रेटिव असिस्टेंट ही करते हैं। इसमें प्राइवेट के साथ ही गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब के मौके होते हैं। टाइपिस्ट, डीटीपी, ऑफिस असिस्टेंट या अकाउंट असिस्टेंट जैसी पोस्ट से शुरुआत की जा सकती है। इस पोजिशन पर काम करने के लिए मैनेजेरियल स्किल्स के साथ ही मैनेजेरियल इकोनॉमिक्स का नॉलेज भी होना चाहिए।
  • > मार्केटिंग, एजुकेशन के साथ ही आईक्यू इम्प्रूव करने के लिए भी गेम खेले जा रहे हैं। मोबाइल गेमिंग, आईफोन गेमिंग, सोशल गेमिंग की डिमांड लगातार बढ़ रही है। गेम आर्टिस्ट, गेम डेवलपर, गेम टेस्टर, गेम डिकोडर जैसे पोजिशन पर आप इस कोर्स के बाद जॉब कर सकते हैं। 10वीं क्लास के बाद भी गेम डिजाइनिंग सीखी जा सकती है।
    ये भी पढ़ें...
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Self Help

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×