• Hindi News
  • After Decree Of Commission Case Register Against Amit Shah And Azam Khan

भारी पड़े बयान, आयोग के फरमान के बाद अमित शाह, आजम पर केस दर्ज

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मुजफ्फरनगर/गाजियाबाद. चुनाव आयोग के निर्देश पर भाजपा नेता अमित शाह और समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान के खिलाफ दो-दो केस दर्ज हुए हैं। दोनों पर चुनाव प्रचार के दौरान भड़काऊ बयान देने के आरोप हैं। शाह के खिलाफ दोनों केस मुजफ्फरनगर में दर्ज हुए हैं।

आजम खान के खिलाफ एक केस गाजियाबाद में दर्ज हुआ है और दूसरा संभल में। चुनाव आयोग ने यूपी में किसी भी प्रचार कार्यक्रम में भाग लेने से दोनों को रोका है। अमित शाह ने शनिवार को कहा कि मैं चुनाव आयोग से अपने डिसीजन पर फिर से विचार करने का आग्रह करूंगा। मैं आयोग के फैसले का सम्मान करता हूं। जब से आदेश आया है तब से मैंने किसी प्रचार कार्यक्रम में भाग नहीं लिया है।

आजम को प्रचार करने से रोकना गलत : मुलायम

समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने कहा है कि आजम खान को चुनाव प्रचार करने से रोकना गलत है। मेरी चुनाव आयोग से अपील है कि वह अपने फैसले पर पुनर्विचार करे। आजम खान को चुनाव प्रचार करने के लिए इजाजत दे। आंवला की सभा में मुलायम ने कहा कि आजम सेक्युलर नेता हैं। जबकि शाह पर गुजरात में दंगे करवाने का आरोप है। मेरी आयोग से अपील है कि वह आजम और शाह के मामलों को अलग-अलग देखे।

राज ठाकरे पर एफआईआर

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। मामला 7 अप्रैल को चुनावी रैली में दिए बयान को लेकर है। राज ने किसानों से कहा था कि 'आत्महत्या मत करो। इसके बजाय उस व्यक्ति की हत्या कर दो जो आपके साथ अन्याय करता है।'